Raj Express
www.rajexpress.co
टिमरनी और खिरकिया में बाढ़ पीड़ितों के हालात खराब
टिमरनी और खिरकिया में बाढ़ पीड़ितों के हालात खराब|Ayyub khan
मध्य प्रदेश

हरदा: टिमरनी और खिरकिया में बाढ़ पीड़ितों के हालात खराब

हरदा, मध्य प्रदेश: जिले में जगह-जगह बाढ़ के हालात बन गये हैं। सैकड़ों गांवों का जिला मुख्यालय से संपर्क टूट गया है। बारिश के प्रकोप से लोगों के आशियाने सुरक्षित नहीं है, बच्चे बीमार हो रहे हैं।

Ayyub Khan

राज एक्सप्रेस। जिले में रिकार्ड तोड़ बारिश हुई है, इसका सबसे ज्यादा असर निचली बस्ती के गरीब लोगों पर पड़ा है, बारिश के प्रकोप से पीड़ित लोगों के आशियाने सुरक्षित नहीं बचे हैं, बच्चे बीमार हैं, खाने-पीने की सामग्री पानी में भीग चुकी है। इन सब चीजों से पीड़ित परिवार कभी आसमान की तरफ देख रहे हैं, तो कभी शासन-प्रशासन की मदद की राह देख रहें है।

बारिश के कारण आशियाने टूट गए :

हरदा जिले के टिमरनी और खिरकिया तहसील के छीपाबड़ में निवास करने वाले पीड़ितों ने अपना दर्द बयां किया है, टिमरनी के वार्ड क्र.15 में रहने वाली विधवा अनीता पति राजू, तारा बाई, वार्ड क्र. 1 की किरण बाई, विकलांग मासूम बी, ने बताया है कि, भारी बारिश के कारण उनके आशियाने टूट गये हैं, खाने-पीने की सामग्री बह गई है या गीली हो गई। सोने बैठने के लिए भी जगह नहीं है, इस सबके बावजूद अधिकारी और कर्मचारी उनके हाल जानने के लिए नहीं आए है और न ही किसी प्रकार की कोई मदद की है।

बारिश के कारण आशियाने टूट गए
बारिश के कारण आशियाने टूट गए
Ayyub khan

प्रशासन से गुहार लगाई :

इसी तरह रेल्वे लाईन की दूसरी तरफ लगभग बाईपास पर बनी लगभग 50 झुग्गियों में बारिश का पानी करीब घुटनों तक भर गया था। इधर वर्षा से प्रभावित टिमरनी के निवासीयों ने अपनी समस्या बताते हुए, प्रशासन से गुहार लगाई।