Raj Express
www.rajexpress.co
शासन की अनोखी पहल
शासन की अनोखी पहल|Social Media
मध्य प्रदेश

शासन की अनोखी पहल-कैदियों को बना रहे समाज में जीवन जीने काबिल

मध्य प्रदेश के जबलपुर में अब जेल में बंद कैदियों के लिए शासन की अनोखी पहल शुरू, इसके लिए प्रशासन कई तरह के कार्यक्रम भी चला रही है।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

राज एक्सप्रेस। मध्य प्रदेश के जबलपुर में अब जेल में बंद कैदियों के लिए शासन की अनोखी पहल शुरू, इसके लिए प्रशासन कई तरह के प्रशिक्षण कार्यक्रम भी चला रहा है, जिससे जेल में अपने गुनाहों की सजा काट रहे कैदी रिहा होने के बाद अपनी जिंदगी अच्छी तरह से शुरू कर सकें। जबलपुर में प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना का लाभ अब जेल की चारदीवारी तक पहुंच रहा है।

कैदियों को दी जा रही हे शेफ बनने की ट्रेनिंग

जेल में अपने गुनाहों की सजा काट रहे कैदियों की जिंदगी नये सिरे से सुधारने के लिए ये ट्रेनिंग दी जा रही है। इसके लिए शासन कई तरह के प्रशिक्षण कार्यक्रम चला रहा है। बंदियों को हथकरघा, हैंडलूम, सिलाई, बुनाई, फर्नीचर निर्माण जैसे काम जेल के अंदर सिखाए जा रहे थे। लेकिन अब इस कड़ी में एक कदम और आगे बढ़ते हुए शासन ने बंदियों को मल्टी कूजीन फूड बनाने में दक्ष करने की योजना पर काम शुरू कर दिया है, अब जेल में ही बंदियों को शेफ का काम सिखाया जा रहा।

केंद्र शासन की विकास योजना

केंद्र शासन की विकास योजना के तहत जेल कैदियों को मल्टी फ़ूड के साथ बेकरी में बनने वाली चीजों को बनाने का हुनर सिखाया जा रहा है ताकि कैदी बाहर निकलकर स्वयं का व्यापार कर सकें। जबलपुर की नेताजी सुभाष चंद्र बोस सेंट्रल जेल में करीब 2200 से ज्यादा कैदी सजा काट रहे हैं, इस योजना के तहत बंदियों को मल्टी कूजीन फूड और बेकरी में बनने वाली चीजों की ट्रेनिंग के लिए चुना गया है। खास बात ये है कि राजस्थान, हिमाचल, गुजरात सहित कई प्रदेशों के एक्सपर्ट ट्रेनिंग दे रहे हैं।

जेल प्रशासन के अधिकारियों का कहना

केंद्र शासन की कौशल विकास योजना के तहत जेल में बंद कैदियों को मल्टी कूजीन फूड के साथ बेकरी में बनने वाली चीजों को बनाने का हुनर सिखाया जा रहा है इस योजना का मतलब बस ये नहीं के कैदियों को खाना बनाना सिखाया जाये, बल्कि इसका मतलब ये है कि जब कैदी पूरी सजा करके बाहर निकले तो समाज में सम्मानजनक जीवन व्यतीत कर सके।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।