स्मार्ट सिटी रैंकिंग जारी: MP की राजधानी 'भोपाल' को देश में मिला पहला स्थान
भोपाल को देश में मिला पहला स्थानSyed Dabeer Hussain - RE

स्मार्ट सिटी रैंकिंग जारी: MP की राजधानी 'भोपाल' को देश में मिला पहला स्थान

भोपाल, मध्यप्रदेश : केंद्र सरकार के आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय ने जारी की रैंकिंग, देश की 100 स्मार्ट सिटी की राष्ट्रीय रैंकिंग जारी में मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल को पहला स्थान मिला है।

भोपाल, मध्यप्रदेश। देश की स्मार्ट सिटी द्वारा किये गए कार्यों की समीक्षा के बाद जारी 100 स्मार्ट सिटी की रैंकिंग में एक बार फिर मध्यप्रदेश अव्वल, बता दें कि केंद्र सरकार के आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय ने शुक्रवार को देश की 100 स्मार्ट सिटी की राष्ट्रीय रैंकिंग जारी की है, रैंकिंग के मामले में MP की राजधानी 'भोपाल' को देश में देश में नंबर वन स्थान मिला है, इसके साथ ही साथ 100 शहरों की रैंकिंग में मध्यप्रदेश के इंदौर ने भी अपनी जगह निश्चित की है।

'भोपाल स्मार्ट सिटी' को मिला देश में पहला स्थान :

देश की 100 स्मार्ट सिटी में राजधानी भोपाल ने पहला स्थान हासिल किया है, इसके अलावा अहमदाबाद को दूसरा और सूरत को तीसरा स्थान मिला है,वही इंदौर ने चौथा स्थान हासिल हुआ है। बता दें कि स्मार्ट सिटी कंपनी के अधिकारियों ने बताया कि यह रैकिंग स्मार्ट सिटी के प्रोजेक्टों के पूरा होने, टेंडर संबंधित प्रक्रिया व बजट के उपयोग के आधार पर जारी की जाती है, बताते चलें कि नवंबर में जारी हुई रैंकिंग में राजधानी भोपाल दूसरे पायदान पर था।

  1. पहला स्थान- स्मार्ट सिटी में भोपाल को पहला स्थान मिला है।

  2. दूसरा स्थान- स्मार्ट सिटी में अहमदाबाद को दूसरा स्थान मिला है।

  3. तीसरा स्थान- स्मार्ट सिटी में सूरत को दूसरा तीसरा स्थान मिला है।

  4. चौथा स्थान- स्मार्ट सिटी में इंदौर को चौथा स्थान मिला है।

भोपाल स्मार्ट सिटी
भोपाल स्मार्ट सिटीSyed Dabeer Hussain - RE

स्मार्ट सिटी कंपनी सीईओ ने बताया

  • मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के टीटी नगर स्थित एरिया बेस्ड डेवलपमेंट प्रोजेक्ट के तहत हो रहे काम पूरे होने वाले हैं।

  • मध्यप्रदेश की पहली स्मार्ट रोड, छोटे तालाब के कमलापति घाट पर पुराने शहर को नए शहर से जोड़ने वाला आर्च ब्रिज, स्मार्ट रोड पर निर्माणाधीन स्मार्ट पार्क का काम पूरा होने वाला है।

  • केंद्र सरकार द्वारा स्मार्ट सिटी कंपनी के प्रोजेक्ट की मॉनीटरिंग भी की जा रही है, 3 प्रोजेक्ट को लेकर कंपनी लोकार्पण की तैयारी भी कर रही है।

  • स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत ऐतिहासिक इमारत सदर मंजिल के संरक्षण करने का काम किया जा रहा है।

आपको बताते चलें कि मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लगातार आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के जरिये होने वाली बैठकों में इन विषयों पर समीक्षा करते रहते हैं कल ही मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री ने निर्देश देते हुए कहा- नगरीय क्षेत्रों में गरीब वर्ग के लिए बनाए गए अधूरे ई.डब्ल्यू.एस. आवास पूर्ण किए जाएं, इनकी कीमत प्रति इकाई 7.5 लाख रूपए है, स्मार्टसिटी मिशन के अंतर्गत 468 प्रोजेक्ट्स में से 216 पूरे कर लिए गए हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co