नगरीय क्षेत्रों की सड़कों की रिपेयरिंग तुरंत शुरू करें : गोपाल भार्गव
गोपाल भार्गव ने विभागीय समीक्षा बैठक लीSocial Media

नगरीय क्षेत्रों की सड़कों की रिपेयरिंग तुरंत शुरू करें : गोपाल भार्गव

भोपाल : लोक निर्माण मंत्री गोपाल भार्गव ने विंध्याचल और सतपुड़ा भवनों के संधारण तथा पांच महानगरों की सड़कों के वर्षा पूर्व संधारण के प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश विभागीय समीक्षा बैठक में दिए हैं।

भोपाल, मध्यप्रदेश। लोक निर्माण मंत्री गोपाल भार्गव ने विंध्याचल और सतपुड़ा भवनों के संधारण तथा पांच महानगरों की सड़कों के वर्षा पूर्व संधारण के प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश विभागीय समीक्षा बैठक में दिए हैं। उन्होंने कहा कि नगरीय क्षेत्रों से गुजरने वाली लोक निर्माण विभाग की सड़कों तथा राजमार्गों की रिपेयरिंग तुरंत प्रारंभ की जाए। उन्होंने प्रदेश में अपूर्ण बड़ी परियोजनाओं को शीघ्र पूर्ण कराने के निर्देश भी दिए।

मंत्री भार्गव ने 491 करोड़ रुपए की लागत से छिंदवाड़ा में बनाए जा रहे मेडिकल कॉलेज भवन एवं 319 करोड़ रुपए की लागत से इंदौर में बनाए जाने वाले जिला सत्र न्यायालय के 10 मंजिला भवन, ग्वालियर में 338 करोड़ रुपए की लागत से बनाए जा रहे 100 बिस्तरीय अस्पताल भवन के निर्माण में देरी पर चिंता व्यक्त की। उन्होंने कहा कि ऐसे सभी कार्यों को पूर्ण करने के लिये मुख्य सचिव की अध्यक्षता वाली समिति या मंत्रि-परिषद से अतिरिक्त स्वीकृति या अनुमति की आवश्यकता है, तो प्रस्ताव तुरंत तैयार किए जाएं। मंत्री ने कहा कि भोपाल शहर के प्रमुख कार्य, जो सीपीए से विभाग को हस्तांतरित किये गए हैं, उन पर विशेष ध्यान दिया जाए। उन्होंने कहा कि सीपीए की जिम्मेदारी विभाग के वृहद दृष्टिकोण और अरबन प्लानिंग में निपुण अधिकारी को ही दी जाए। उन्होंने कहा कि राजधानी परियोजना से हस्तांतरित भोपाल के सभी महत्वपूर्ण भवन, विधानसभा, वल्लभ भवन, सतपुड़ा और विंध्याचल भवन और शौर्य स्मारक का रख-रखाव महत्वपूर्ण कार्य है। इसी कड़ी में उन्होंने सतपुड़ा और विंध्याचल भवन के संधारण का प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिए।

वर्षा पूर्व हो सड़कों का संधारण :

मंत्री ने कहा कि वर्षा से पहले आरडीसीए पीडब्ल्यूडी और राष्ट्रीय राजमार्ग अपनी सभी सड़कों का संधारण कार्य पूर्ण कराए। इसी कड़ी में उन्होंने कहा कि भोपाल शहर में लोक निर्माण विभाग द्वारा बनाई गई 450 किलोमीटर सड़क तथा सीपीए से स्थानांतरित होकर आई 92 किलोमीटर सड़कों का प्राथमिकता से स्थल निरीक्षण कराया जाए। बैठक में 3131 करोड़ रूपये की लागत के स्वीकृत 105 रेलवे ओवर- ब्रिज की प्रगति की समीक्षा भी की गई। साथ ही भोपाल शहर में 233 करोड़ के बैरागढ़ में एलिवेटेड रोड, ग्वालियर में 466 करोड़ के स्वर्ण रेखा नाला पर एलिवेटेड रोड तथा रीवा-वाराणसी-नागपुर मार्ग पर 34 करोड़ रूपये की लागत से ओवर-ब्रिज के निर्माण के टेण्डर प्रक्रिया में तेजी लाएं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.