मध्यप्रदेश में पत्थरबाजी नहीं चलने दी जाएगी : मुख्यमंत्री
मध्यप्रदेश में पत्थरबाजी नहीं चलने दी जाएगी : मुख्यमंत्रीRaj Express

मध्यप्रदेश में पत्थरबाजी नहीं चलने दी जाएगी : मुख्यमंत्री

भोपाल, मध्य प्रदेश : श्री चौहान ने प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा के निवास पर एक कार्यक्रम के दौरान मीडिया के सवालों के जवाब में कहा कि पत्थरबाजी करने वाले पत्थरबाज समाज के दुश्मन हैं।

भोपाल, मध्य प्रदेश। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने हाल ही में राज्य के कुछ स्थानों पर पत्थरबाजी की घटनाओं के बीच रविवार को कहा कि ऐसा करने वाले समाज के दुश्मन हैं और उन्हें इस राज्य में ऐसा नहीं करने दिया जाएगा।

श्री चौहान ने रविवार को यहां प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा के निवास पर एक कार्यक्रम के दौरान मीडिया के सवालों के जवाब में कहा कि पत्थरबाजी करने वाले पत्थरबाज समाज के दुश्मन हैं। इसे साधारण अपराध की श्रेणी में नहीं रखा जा सकता है। उन्होंने कहा कि कहीं से भी उठाया और पत्थर दे दिया। इससे लोगों की जान भी जा सकती है। इससे भय और आतंक का माहौल पैदा होता है। भगदड़ मचती है। अव्यवस्थाएं होती हैं। श्री चौहान ने दृढ़ता के साथ कहा कि राज्य में कानून का राज रहेगा। इस तरह के अपराधी साधारण अपराधी नहीं हैं, इन्हें छोड़ा नहीं जाएगा। अभी तो मामूली सी कार्रवाई होती थी। अब हम कड़ी सजा का प्रावधान करने के लिए कानून बना रहे हैं।

श्री चौहान ने रविवार को यहां प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा के निवास एक कार्यक्रम के दौरान मीडिया के सवालों के जवाब में कहा कि पत्थरबाजी करने वाले पत्थरबाज समाज के दुश्मन हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि लेकिन केवल पत्थरबाजी नहीं, कई बार उत्पाती सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाते हैं। आग लगा देते हैं। सार्वजनिक संपत्ति के साथ-साथ व्यक्तिगत संपत्तियों को भी नुकसान पहुंचाया जाता है। किसी की दुकान में आग लगा दी। किसी के यहां तोडफ़ोड़ कर दी। यह अक्षम्य अपराध है। शांतिपूर्ण ढंग से कोई अपनी बात कहें, लोकतंत्र इसकी इजाजत देता है, लेकिन आग लगा दो, तोड़फोड़ कर दो, पत्थर चला दो। इसकी इजाजत किसी को नहीं दी जा सकती।

उपद्रवियों से की जाएगी संपत्ति के नुकसान की वसूली :

श्री चौहान ने कहा कि इसलिए राज्य की भाजपा सरकार ने तय किया है कि सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वालों के खिलाफ ना केवल कड़ी कार्रवाई करेंगे, बल्कि अगर सार्वजनिक संपत्ति को कोई नुकसान पहुंचाता है, तो सजा के साथ-साथ संपत्ति का जो नुकसान होगा, वह भी वसूल किया जाएगा। उसकी संपत्ति को राजसात करना पड़े, तो राजसात करके वसूली करेंगे और नुकसान की भरपाई करेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह प्रावधान भी किया जाएगा कि यदि किसी की व्यक्तिगत संपत्ति को भी जला दिया गया या तोड़ फोड़ कर दी गई तो उसके नुकसान की भरपाई भी उपद्रवी से की जाएगी। श्री चौहान ने कहा कि इस संबंध में सख्त कानून बनाने के निर्देश उन्होंने दिए हैं और जल्द ही यह अस्तित्व में आएगा। पत्थरबाजी की घटनाएं हाल में उज्जैन, इंदौर और कुछ अन्य जिलों में सामने आई हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co