लव जिहाद कानून को लेकर सख्त MP सरकार, कैबिनेट में मिलेगी अध्यादेश को मंजूरी
लव जिहाद कानून को लेकर सख्त शिवराज सरकारSocial Media

लव जिहाद कानून को लेकर सख्त MP सरकार, कैबिनेट में मिलेगी अध्यादेश को मंजूरी

भोपाल, मध्यप्रदेश : प्रदेश में लव जिहाद के खिलाफ कल से लागू हो जाएगा नया कानून, MP में ‘लव जिहाद’ कानून के लिए अध्यादेश लाएगी शिवराज सरकार।

भोपाल, मध्यप्रदेश। कोरोना संकट के बीच पिछले दिनों मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में मध्यप्रदेश में लव जिहाद के खिलाफ प्रस्तावित धर्म स्वातंत्र्य विधेयक को मंजूरी दी गई है, इसमें कानून को और सख्त बनाने संबंधी फैसला लिया गया, अब मध्यप्रदेश में ‘लव जिहाद’ कानून के लिए शिवराज सरकार अध्यादेश लाएगी।

MP में कल से लागू हो जाएगा लव जिहाद के खिलाफ नया कानून :

मिली जानकारी के मुताबिक आज खबर मिली है कि कल से मध्यप्रदेश में लव जिहाद के खिलाफ प्रस्तावित धर्म स्वातंत्र्य अधिनियम 2020 लागू हो जाएगा, शिवराज सरकार का लव जिहाद के खिलाफ अध्यादेश ला रही है, सरकार ने यह कदम विधानसभा के शीतकालीन सत्र के स्‍थगित होने के कारण उठाया है, बताते चलें कि 28 दिसंबर से शुरू हो रहे विधानसभा के शीतकालीन सत्र में पेश किया जाना था, लेकिन सत्र रद्द होने के कारण सरकार अध्यादेश ला रही है।

सीएम शिवराज ने कहा-

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि- धर्म स्वातंत्र्य विधेयक 2020 सहित जितने भी विधेयक थे, उसके लिए हम कल कैबिनेट की बैठक कर रहे हैं, अध्यादेश लाकर हम इन्हें लागू करेंगे। बता दें कि अब इसे छह महीने के अंदर पास कराना होगा, इसके बाद 29 दिसंबर को इसे राजपत्र में प्रकाशित कर दिया जाएगा।

जानें ये बातें

नए मसौदे के प्रावधानों में धर्म परिवर्तन के अपराध में पीड़ित महिला और पैदा होने वाले बच्चे के भरण-पोषण की जिम्मेदारी भी तय की गई है, पैदा हुए बच्चे को पिता की संपत्ति में उत्तराधिकारी के रूप में अधिकार बरकरार रखने का प्रावधान शामिल किया गया है लव जिहाद जैसे मामलों में सहयोग करने वालों को भी मुख्य आरोपी बनाया जाएगा। उन्हें अपराधी मानते हुए मुख्य आरोपी की तरह ही सजा होगी। बहला-फुसलाकर, धमकी देकर जबर्दस्ती धर्मांतरण और शादी करने पर 10 साल की सजा का प्रावधान होगा, यह अपराध गैर जमानती होगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co