Raj Express
www.rajexpress.co
आवासीय हॉस्टल की टंकी में डूबने से छात्र की मौत
आवासीय हॉस्टल की टंकी में डूबने से छात्र की मौत|Pankaj Yadav
मध्य प्रदेश

छतरपुर : आवासीय हॉस्टल की टंकी में डूबने से छात्र की मौत

हरपालपुर, छतरपुर : पुलिस और छात्र के परिजनों को बिना सूचना दिए शव ले गए अस्पताल, पहले भी सामने आ चुके हैं ऐसे मामले।

Pankaj Yadav

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश के हरपालपुर नगर के राठ रोड पर संचालित शिव हॉस्टल में रहने वाले एक छात्र की मौत बीती रात हॉस्टल में मौजूद पानी की टंकी में डूबने से हो गई है। जिसे तुरंत इलाज के लिए अस्पताल लाया गया जहां हालत गंभीर होने से नौगांव के अस्पताल रैफर किया गया जहां इलाज के दौरान छात्र की मौके पर मौत हो गई जिसकी सूचना आवासीय हॉस्टल के संचालकों ने पुलिस और छात्र के परिजनों को नहीं दी। मामला संदिग्ध माना जा रहा हैं।

क्या है मामला :

जानकारी के मुताबिक ग्राम सरसेड़ निवासी राकेश प्रजापति ने अपने 9 साल के बेटे कपिल प्रजापति को शिव आवासीय विद्यालय में दाखिल कराया था। बीती रात कपिल शौच के लिये गया था और इसी दौरान वह हॉस्टल की छत पर बनी पानी की टंकी गिर गया। जब काफी देर तक वह अपने रूम में नहीं आया तो उस तलाश की गई। करीब 20 मिनिट बाद छात्र पानी की टंकी में पड़ा मिला। उसे आनन-फानन में टंकी से बाहर निकाल कर ईलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया जहां उसकी हालत गंभीर बताकर नौगांव सीएचसी रैफर कर दिया गया। जहां डॉक्टरों इलाज के दौरान ने उसे मृत घोषित कर दिया था।

परिजनों ने संचालक पर लगाया आरोप :

नौगांव में डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया चूंकि हॉस्टल संचालक छात्र के परिजनों और पुलिस को जानकारी दिए बिना छात्र को इलाज के लिए नौगांव ले गए थे इसलिए मृतक के परिजनों में उनके खिलाफ नाराजगी है। परिजनों को सुबह 5 बजे कपिल की तबियत खराब होने की सूचना दी गई जिस पर परिजन नौगांव अस्पताल पहुंचे जहां उन्हें मासूम कपिल मृत अवस्था मे मिला। परिजनों ने संचालक पर लापरवाही का आरोप लगाया है।

इस मामले की पुलिस को सूचना मिलने पर मामला दर्ज कर छात्र की मौत के कारणों का पता लगाया जा रहा है।

पहले भी आ चुके हैं ऐसे मामले सामने :

ज्ञात हो कि, शिक्षा विभाग की अनदेखी के चलते नगर में करीब एक सैकड़ा बिना मान्यता के आवासीय विद्यालय संचालित हो रहे हैं। वर्ष 2017 में एक आवासीय विद्यालय के प्राचार्य पर दो नाबालिगों से दुष्कर्म का मामला भी सामने आया था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।