ग्वालियर के माथे पर लगा 1857 का कलंक जनता को मिटाना होगा - सुनील केदार

डबरा, मध्य प्रदेश : महाराष्ट्र सरकार में पशुपालन मंत्री उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी के समर्थन में डबरा पहुचें। कांग्रेस ने जारी किया विधानसभा का संकल्प पत्र।
ग्वालियर के माथे पर लगा 1857 का कलंक जनता को मिटाना होगा - सुनील केदार
पत्रकारों से चर्चा करते हुए महाराष्ट्र के पशुपालन मंत्रीSocial Media

डबरा, मध्य प्रदेश। 1857 समय ग्वालियर के महाराजाओं ने रानी लक्ष्मीबाई के साथ जो किया, वह कलंक आज भी ग्वालियर के माथे पर लगा हुआ है, उस कलंक को मिटाने का समय उपचुनाव में आ गया है। 170 वर्ष बाद एक बार फिर इतिहास दोहरा रहा है कि जिस तरह की गद्दारी 1857 की क्रान्ति में सिंधिया परिवार ने की थी। एक बार फिर सिधिंया परिवार के वंशज ने कांग्रेस सरकार गिराकर 1857 का इतिहास दोहरा दिया है। 1857 की क्रान्ति की गद्दारी का कलंक एक बार फिर से इतिहास के पन्नों से निकलकर जनमानस के सामने आ गया है। ग्वालियर की जनता के लिए यह गद्दारी का कलंक मिटाने का समय है इस बार जनता के सामने है। ग्वालियर चंबल संभाग की जनता बिकाऊ सिंधिया परिवार एंव उनके समर्थकों को सबक सिखाकर इतिहास में दर्ज होने वाले गद्दारी के कलंक को मिटा दें। यह बात महाराष्ट्र सरकार में पशुपालन, युवा कल्याण और खेल के विभागों का काम-काज मंत्री सुनील केदार मंगलवार को पत्रकारों से चर्चा करते हुए कही।

डबरा विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी सुरेश राजे के प्रचार के लिए पहुंचे महाराष्ट्र सरकार के मंत्री ने सिंधिया परिवार पर गद्दारी का आरोप लगाते हुए एक बार पुन: चार पीढ़ियों के बाद इतिहास दोहराने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि 1857 की क्रांति के समय सिंधिया शासकों ने रानी लक्ष्मीबाई को मरवा कर जिस प्रकार यहां की भूमि को कलंकित किया वह कलंक धोने का समय उप चुनाव में जनता के सामने है। जनता गद्दार या कलंक मिटाने के लिए ऐसे बिकाऊ लोगों को सबक सिखा कर अपने माथे से गद्दारी का कलंक मिटा दे, उन्होंने कहा कि विचारधारा और नैतिकता की राजनीति करना चाहिए आज पूरा हिंदुस्तान इस उपचुनाव को देख रहा है। ग्वालियर चंबल संभाग मध्यप्रदेश की राजनीति का नीति निर्धारक बनेगा, उन्होंने कहा कि आज भाजपा में राजनीतिक नैतिक मूल्यों को पूरी तरह ताक पर रख दिया है अटल और आडवाणी की विचारधारा वाली राजनीति भाजपा में पूरी तरह खत्म हो चुकी है।

वहीं विधानसभा उपचुनाव के प्रभारी पूर्व सांसद रामसेवक सिंह गुर्जर ने कहा कि कांग्रेस जनता के बीच विकास के मुद्दे को लेकर जाएगी। जिस तरीके से सिंधिया समर्थकों ने कांग्रेसी सरकार गिराकर जनता पर उपचुनाव थोपा है। उस मुद्दे को लेकर हम जनता के बीच जायेंगे, जल्द ही चुनावी प्रबंधन मजबूत कर पुराने और कट्टर कांग्रेसियों के साथ हम जनता के बीच अपनी आवाज बुलंद करेंगे। रामसेवक सिह ने कहा कि अंचल में कांग्रेस का काफी प्रभाव है। जनता ने तीन बार यहां से कांग्रेस का विधायक दिया है और आगे भी जनता कांग्रेस को अपना समर्थप देगी। इस अवसर पर कांग्रेस नेताओं ने डबरा विधानसभा का संकल्प पत्र भी जारी किया।

डॉ.नरोत्तम मिश्रा ने 15 साल में नही करा पाये डबरा का विकास :

पूर्व मंत्री लाखन सिंह यादव ने कहा कि प्रदेश सरकार में दूसरे नंबर के नेता डॉ. नरोत्तम मिश्रा 15 साल से सरकार में मंत्री रहे, लेकिन उन्होंने डबरा के विकास की ओर ध्यान नहीं दिया स्वास्थ्य मंत्री रहे लेकिन उन्होंने स्वास्थ्य सेवाओं का अंचल में विस्तार नहीं किया, जल संसाधन मंत्री रहने के दौरान अगर चाहते तो जिगनिया वारकरी नहर पिछोर क्षेत्र को सिंचित कर सकती थी, लेकिन उन्होंने क्षेत्र के विकास की ओर बिल्कुल ध्यान नहीं दिया। जबकि डबरा की जनता नहीं उन्हें नेता के रूप में खड़ा किया, जो प्रदेश में आज दूसरे नंबर के नेता है। वही उपचुनाव में डॉ नरोत्तम मिश्र अब तीन साल में विधानसभा क्षेत्र को दतिया की तरह चमकाने का वादा जोर शोर से कर रहे हैं, मैं उनसे कहना चाहता हूं अगर उन्हें डबरा की जनता की फिक्र थी, तो उन्होंने 15 साल में यहां पर कोई विकास कार्य क्यों नहीं कराया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co