Raj Express
www.rajexpress.co
खुदकुशी या हत्या
खुदकुशी या हत्या|Social Media
मध्य प्रदेश

खुदकुशी या हत्या? स्कूल में मिली जली हुई लाश को लेकर संशय

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के टीटी नगर थाना क्षेत्र के पंचशील नगर इलाके में पटेल स्कूल के भीतर कमरे में जंजीरों से जकड़े और जले युवक की लाश की गुत्थी फिलहाल सुलझती नजर नहीं आ रही है।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के टीटी नगर थाना क्षेत्र के पंचशील नगर इलाके में पटेल स्कूल के भीतर कमरे में जंजीरों से जकड़े और जले युवक की लाश की गुत्थी फिलहाल सुलझती नजर नहीं आ रही है। पंचशील नगर इलाके से लापता युवक के मोबाइल में मिली वीडियो क्लिपिंग को आधार मानकर पुलिस इसे आत्महत्या का मामला मानकर चल रही है।

हालांकि इस बात खुलासा डीएनए रिपोर्ट आने के बाद ही हो सकेगा कि, जली लाश लापता युवक की थी। फिलहाल विवेचना में लगी पुलिस टीम का कहना है कि, स्कूल में मिली युवक की जली लाश का मामला हत्या का नहीं बल्कि आत्महत्या का है।

टीटी नगर सीएसपी उमेश तिवारी ने बताया-

इलाके से लापता हुए युवक अनिल ठाकरे के घर से उसके बड़े भाई के पास से एक मोबाइल जब्त किया गया है जो लापता अनिल का है। मोबाइल में एक वीडियो मिला है। विगत 6 दिसंबर की रात करीब सवा नौ बजे वीडियो बनाया गया है जिसमें युवक यह कहते दिख रहा है, कि अपनी मौत का जिम्मेदार मैं खुद हूं, इसके लिए किसी को परेशान न किया जाए।

पुलिस ने संदेह जताया-

युवक अनिल ठाकरे वही है जो विगत शनिवार को अचानक रहस्यमय ढंग से लापता हुआ था। हालांकि लापता युवक और स्कूल में मिली लाश एक ही शख्स की है इसकी पुष्टि डीएनए रिपोर्ट आने के बाद ही हो सकेगी।

स्कूल के भीतर जिस छोटे से कमरे से जली लाश बरामद हुई है, वहां से लगी हुई पंचशील नगर की दुकानें हैं। इन दुकानों से चढ़कर अंदर प्रवेश किया जा सकता है। इसके अलावा भी स्कूल की बाउंड्रीवाल फांदकर भी अंदर प्रवेश किया जा सकता है। लेकिन यह बात लोगों के गले से नहीं उतर रही कि यदि लाश लापता अनिल की है और उसने आत्महत्या की तो उसने आत्महत्या का इतना जटिल तरीका क्यों अपनाया? मतलब आत्महत्या के लिए दीवार फांदकर स्कूल के भीतर प्रवेश कर खुद को लोहे की जंजीर से जकड़ कर आग लगाना और आत्महत्या करने के लिए पेट्रोल, लकड़ी और जंजीर आदि का इंतजाम करना।

पुलिस जांच में जुटी

पुलिस जांच में जुटी कि, कहीं धमका कर तो नहीं बनाया वीडियो। पुलिस ने मृतक की शिनाख्त के लिए पंचशील नगर से तीन दिन से लापता अनिल ठाकरे के परिजनों के डीएनए सैंपल लिए हैं। हालांकि अनिल के भाई ने शव देखने के बाद उसे पहचानने से इनकार कर दिया। सीएसपी उमेश तिवारी का कहना- अनिल बैग सिलाई का काम करता है, उसके दोस्तों से भी पूछताछ की जा रही है। पता चला है कि अनिल का मानसिक संतुलन ठीक नहीं है।

दूसरी ओर पुलिस इस बिन्दु पर भी काम कर रही है कि, लापता युवक के मोबाइल में मिला वीडियो अज्ञात हत्यारों ने कहीं धमका कर तो नहीं बनाया है। थाना प्रभारी वीरेन्द्र चौहान ने बताया कि, डीएनए रिपोर्ट आने तक कुछ भी स्पष्ट रूप से नहीं कहा जा सकता है। लापता युवक अनिल की भी खोजबीन की जा रही है और स्कूल में मिले साक्ष्यों के आधार पर पुलिस इस मामले को हत्या का मानकर अज्ञात आरोपियों का सुराग लगाने का प्रयास भी कर रही है।

नीचे दी गई लिंक पर क्लिक कर पढ़ें पूरी खबर-

स्कूल में मिला संदिग्ध परिस्थितियों में जला हुआ शव

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।