ज्यादती और अमानवीय व्यवहार करने वालों पर सख्त कार्रवाई करें : शिवराज सिंह
ज्यादती और अमानवीय व्यवहार करने वालों पर सख्त कार्रवाई करेंSocial Media

ज्यादती और अमानवीय व्यवहार करने वालों पर सख्त कार्रवाई करें : शिवराज सिंह

भोपाल, मध्यप्रदेश : मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि बेटियों और महिलाओं से अन्याय पर मैं सख्त रहा हूं। उन्होंने कहा कि ज्यादती करने, अमानवीय व्यवहार करने वालों पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए।

हाइलाइट्स :

  • प्रदेश के मुखिया ने की कानून-व्यवस्था की स्थिति की समीक्षा।

  • सीएम ने माना, प्रदेश में हुई हैं व्यथित करने वाली घटनाएं।

  • सीएम ने चेतावनी देते हुए कहा, काम नहीं करने वाले अपना रवैया सुधारें।

भोपाल, मध्यप्रदेश। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि पिछले कुछ समय से प्रदेश में व्यथित करने वाली घटनाएं हुई हैं ये सभी घटनाएं बेटियों से संबंधित हैं। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि बेटियों और महिलाओं से अन्याय पर मैं सख्त रहा हूं। उन्होंने कहा कि ज्यादती करने, अमानवीय व्यवहार करने वालों पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए। यदि ऐसे कृत्य परिवार के सदस्य करते हैं तो भी उन्हें बख्शा नहीं जाए।

मुख्यमंत्री चौहान मंत्रालय में कानून-व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। इसमें आला मैदानी अधिकारी भी वर्चुअली शामिल हुए। मुख्यमंत्री ने कहा कि महिलाओं और बेटियों के साथ हो रही घटनाओं में रिकार्ड समय में कार्रवाई की जाए। फास्ट ट्रेक कोर्ट में प्रकरण चलें और दोषियों को दंड में देरी न हो। ज्यादती करने वाली मानसिकता के लोगों में दहशत के लिए त्वरित निर्णय और कठोरतम दण्ड के उदाहरण स्थापित किए जाएं।

सायबर क्राइम रोकने के लिए जागरूकता अभियान चलाएं :

मुख्यमंत्री ने कहा कि सोशल मीडिया के संबंध में सतर्कता और सजगता आवश्यक है। सोशल मीडिया पर चल रही जिलों से संबंधित नकारात्मक गतिविधियों के संबंध में कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक नजर रखें। ऐसी अवांछित, भ्रामक और गैरकानूनी गतिविधियों पर तत्काल कार्रवाई हो और तथ्यों से जन-सामान्य को समय रहते अवगत कराया जाए। सोशल मीडिया के माध्यम से अनैतिक गतिविधियां संचालित करने वालों पर भी कार्रवाई की जाये। सायबर क्राइम रोकने के लिए जागरूकता अभियान चलाया जाए। वायरल वीडियो के संबंध में तुरंत प्रतिक्रिया आवश्यक है।

अवैध खनन बर्दाश्त नहीं होगा :

सीएम चौहान ने कहा कि अवैध खनन बर्दाश्त नहीं होगा। खनन गतिविधियों पर प्रतिबंध है तो उत्खनन कैसे संभव है। खनिज, वन, राजस्व और पुलिस विभाग अवैध खनन पर नियंत्रण के लिए परस्पर समन्वय से कार्य करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि कानून-व्यवस्था के संबंध में अधिकारियों की जवाबदारी तय की जाए। अकर्मण्य, क्षमताविहीन और काम नहीं कर सकने वाले अधिकारी-कर्मचारी अपना रवैया सुधारें।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co