Raj Express
www.rajexpress.co
तहसीलदार ने छात्रावास के निरीक्षण मे देखी गंभीर लापरवाही
तहसीलदार ने छात्रावास के निरीक्षण मे देखी गंभीर लापरवाही|Pankaj Yadav
मध्य प्रदेश

छतरपुर: तहसीलदार को छात्रावास में मिलीं लापरवाहियाँ

हरपालपुर, छतरपुर: शासकीय सीनियर अनुजाति बालक छात्रावास का गुरुवार को औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान तहसीलदार को छात्रावास में साफ-सफाई और भोजन व्यवस्था में गंभीर लापरवाही मिली।

Pankaj Yadav

हाइलाइट्स

  • तहसीलदार द्वारा शासकीय सीनियर अनुजाति बालक छात्रावास का निरीक्षण किया गया
  • निरीक्षण के दौरान मिली गंभीर लापरवाही
  • छात्रावास में साफ-सफाई और भोजन व्यवस्था में लापरवाही
  • छात्रावास में उपस्थित नहीं रहे अधीक्षक
  • छात्रों ने की अधीक्षक के बुरे व्यवहार की शिकायत
  • अधीक्षक की लापरवाही के चलते उसे एसडीएम के समक्ष पेश किया जायेगा

राज एक्सप्रेस। नौगांव एसडीएम बीबी गंगेले के निर्देश पर तहसीलदार भानुप्रताप सिंह ने आरआई जेपी गुप्ता और सदर पटवारी आशीष पांडेय के साथ नगर के शासकीय सीनियर अनुजाति बालक छात्रावास का गुरुवार को औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान तहसीलदार को छात्रावास में साफ-सफाई और भोजन व्यवस्था में गंभीर लापरवाही मिलीं।

न साफ-सफाई थी और न ही दुरुस्त मिली भोजन व्यवस्था:

इतना ही नहीं छात्रावास में अधीक्षक भी उपस्थित नहीं थे। निरीक्षण के दौरान छात्रों ने अधिकारियों को बताया कि, उनको पीने का शुद्ध और साफ पानी नहीं मिल रहा है तथा बोर की मोटर कई दिनों से खराब पड़ी है। नाश्ता और भोजन मीनू के अनुसार नहीं दिया जा रहा है, जो भोजन उन्हें दिया जाता है गुणवत्ताहीन होता है। छात्रों ने अधीक्षक के बुरे व्यवहार की शिकायत भी की।

निरीक्षण के दौरान अधिकारियों ने देखा :

छात्रावास के कमरों में पर्याप्त रोशनी नहीं मिली। पंखे खराब मिले, किचन में राशन का स्टॉक नहीं है, शौचालय गंदगी से भरे पड़े हैं, पंलग टूटे हैं, गद्दे फटे हुए हैं। इसके अलावा 50 सीटर छात्रावास में सिर्फ चार छात्र ही उपस्थित हैं।अवस्थाओं को देख तहसीलदार ने नाराजगी व्यक्त करते हुये अधीक्षक धनीराम अहिरवार को फोन लगाकर फटकार लगाई। वहीं छात्रों के बयान दर्ज कर पंचनामा बनाया और प्रतिवेदन बना कर अधीक्षक के खिलाफ कार्यवाही हेतु वरिष्ठ अधिकारियों के समझ प्रस्तुत करने की बात कही।

तहसीलदार भानुप्रताप सिंह का कहना

"छात्रावास में भारी अवस्थाओं के बीच छात्र रह रहे हैं। अधीक्षक की लापरवाही के चलते छात्रों को भोजन भी नहीं मिल रहा है। पंचनामा बना कर एसडीएम के समक्ष पेश किया जा रहा है"