धार: नहीं रुक रहा बांध से पानी का रिसाव
धार: नहीं रुक रहा बांध से पानी का रिसावSocial Media

धार: नहीं रुक रहा बांध से पानी का रिसाव, डैम की सिचुएशन देख CM ने जैत जाने का कार्यक्रम किया रद्द

मध्यप्रदेश। धार जिले में कारम नदी पर बने बांध के टूटने का खतरा लगातार तेजी से बन रहा है, ऐसे में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज ने गृहग्राम जाना कैंसिल किया।

मध्यप्रदेश। धार जिले में बांध में लीकेज के बाद पानी का रिसाव बढ़ता ही जा रहा है, पानी का बहाव इतना तेज है कि हालत चिंताजनक बने हुए है। ऐसे में डैम की सिचुएशन देखते हुए मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने घर जैत जाने का कार्यक्रम भी रद्द कर दिया है।

CM शिवराज ने जताई चिंता:

बता दें, धार जिले में कारम नदी पर बने बांध के टूटने का खतरा लगातार तेजी से बना रहा है, इस दौरान शिवराज सरकार की प्रशासनिक टीमें डैम को बचाने की जी तोड़ कोशिश में जुट गई है। वहीं, मुख्यमंत्री ने आज जैत जानें का कार्यक्रम भी स्थगित कर दिया है। इसके साथ ही सीएम ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस मामले में फोन पर बातचीत की है। वही केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ ही केंद्रीय जल शक्ति मंत्री को भी बांध में रिसाव और क्षेत्र के निवासियों की रेस्क्यू के संबंध में जानकारी दी।

शिवराज द्वारा बांध से जुड़े ऑपरेशन की निरंतर की जा रही निगरानी:

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज धार जिले के कारम बांध से पानी के रिसाव के बाद उससे जुड़े ऑपरेशन की निरंतर निगरानी कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने बांध में कट लगाकर मार्ग डाइवर्ट करने की कार्रवाई को लाइव वीडियो द्वारा देखा और वरिष्ठ अधिकारियों को सेना, एनडीआरफ, एसडीआरएफ के दल क्षेत्र में तैनात रखने के निर्देश दिए। उन्होंने धार और खरगोन कलेक्टर को निर्देश दिए है कि आमजन को किसी भी तरह का कष्ट नहीं हो। इसके लिए सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाए। उन्होंने अधिकारियों को सभी नागरिकों के साथ ही मवेशियों को भी सुरक्षित जगह पहुंचाने के निर्देश दिए हैं।

इस संबंध में वरिष्ठ अधिकारियों ने उन्हें बताया कि, बांध से जल रिसाव की दुर्घटना की आशंका को देखते हुए संबंधित ग्रामों के निवासियों को हटा दिया गया है। इन ग्रामों को रिक्त करवाकर निवासियों को ‘राहत शिविरों’ में भेज दिया गया है। उनके लिए भोजन और अन्य आवश्यक व्यवस्थाये सुनिश्चित की गई। निवासियों के साथ ही क्षेत्र के पालतू मवेशी भी स्थानांतरित किए गए हैं।

कलेक्टर धार ने बताया-

ग्राम वासियों का भी पूरा सहयोग मिल रहा है। लोगों को सुरक्षित निकालने के कार्य में कोई कठिनाई नहीं आई। इस समय एक डायवर्शन मार्ग द्वारा बांध के जल को अन्य दिशा में प्रवाहित करने की कार्यवाही प्रारंभ की गई है। सीएम ने कलेक्टर धार से कहा कि ‘‘जीवन में कभी-कभी ऐसे अवसर आते हैं जब हमको सामने आकर सारी कठिनाइयों से लड़ना होता है। अपनी बुद्धिमत्ता का प्रयोग करते हुए तत्परता के साथ पशुधन और जनधन की रक्षा करनी है।’’

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co