ग्वालियर : ट्रॉमा सेंटर के विस्तार में पैसे की कमी नहीं आने दी जाएगी
ट्रॉमा सेंटर के विस्तार में पैसे की कमी नहीं आने दी जाएगीSocial Media

ग्वालियर : ट्रॉमा सेंटर के विस्तार में पैसे की कमी नहीं आने दी जाएगी

जयारोग्य अस्पताल के ट्रॉमा सेंटर ग्वालियर-चंबल संभाग ही नहीं राजस्थान एवं उत्तरप्रदेश के समीपवर्ती जिलों की आशा का केन्द्र है। इसलिए यहां की स्वास्थ्य सुविधाएं उच्च कोटि की होनी चाहिए।

हाइलाइट्स :

  • सिंधिया ने ऊर्जा मंत्री व अस्पताल प्रबंधन को दिया धन्यवाद

  • राज्यसभा सांसद सिंधिया ने किया ट्रॉमा का निरीक्षण

ग्वालियर, मध्य प्रदेश। जयारोग्य अस्पताल के ट्रॉमा सेंटर ग्वालियर-चंबल संभाग ही नहीं राजस्थान एवं उत्तरप्रदेश के समीपवर्ती जिलों की आशा का केन्द्र है। इसलिए यहां की स्वास्थ्य सुविधाएं उच्च कोटि की होनी चाहिए। ट्रॉमा सेंटर का विस्तार किया जाए। पैसे की कमी नहीं आने दी जाएगी। हालांकि पहले के और अब के ट्रॉमा सेंटर में जमीन आसमान का अंतर देखा जा सकता है। इसके लिए ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर और जेएएच प्रबंधन धन्यवाद के पात्र हैं। राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्रॉमा सेंटर के निरीक्षण के दौरान कही।

इस अवसर पर राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जेएएच के अधीक्षक डॉ.आरकेएस धाकड़ से कहा कि ट्रॉमा सेंटर का विस्तार कराएं, इससे ट्रॉमा सेंटर में आने वाले सभी मरीजों को अत्याधुनिक चिकित्सा सुविधायें मिल सकें। उन्होंने 20 बिस्तर की अतिरिक्त सुविधा बढ़ाने की बात कही। साथ ही ट्रॉमा सेंटर के जनरल वार्ड का कायाकल्प करने को भी कहा। सिंधिया ने ट्रॉमा सेंटर की साफ-सफाई व्यवस्था एवं सेंटर के सुधार कार्यों की सराहना की। राज्यसभा सांसद ने ट्रॉमा सेंटर के जनरल वार्ड व प्राथमिक उपचार कक्ष का भी निरीक्षण किया। साथ ही ट्रॉमा सेंटर के ऑपरेशन थियेटर में उपलब्ध सुविधाओं के बारे में जानकारी ली। यहां बता दें कि सिंधिया वैसे रविवार को ट्रॉमा सेंटर का निरीक्षण करने वाले थे।

इस अवसर पर पूर्व विधायक मुन्नालाल गोयल, मोहन सिंह राठोर व जीआरएमसी डीन डॉ.एसएन अयंगर, जेएएच अधीक्षक डॉ.आरकेएस धकाड़, ट्रॉमा सेंटर नोडल अधिकारी डॉ.सुनील अग्रवाल, डॉ.देवेन्द्र सिंह कुशवाह, डॉ.प्रवेश भदौरिया उपस्थित थे।

एसी के लिए प्रस्ताव भेजे :

जेएएच अधीक्षक डॉ.आर.के.एस. धाकड़ ने राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया से मांग की कि ट्रॉमा सेंटर में एसी की संख्या कम है। इस पर सिंधिया ने जवाब देते हुए कहा कि आप सीएसआर फंड से खरीद लें, नहीं तो आपको कितने एसी चाहिए, मुझे प्रस्ताव बनाकर भेजें, फंड में उपलब्ध कराऊंगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

AD
No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co