MP में तीसरी बड़ी कार्रवाई
MP में तीसरी बड़ी कार्रवाईPriyanka Yadav-RE

MP में तीसरी बड़ी कार्रवाई: भोपाल में रप्पु सरपंच से मुक्त कराई सरकारी जमीन

भोपाल, मध्यप्रदेश। इंदौर जबलपुर के बाद अब राजधानी भोपाल में भी प्रशासन ने माफियाओं पर कसा शिकंजा, आज प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई कर लगभग 15 करोड़ की सरकारी जमीन मुक्त कराई है।

भोपाल, मध्यप्रदेश। सरकार द्वारा चलाए जा रहे एंटी माफिया अभियान के तहत पुलिस और प्रशासन बड़ी-बड़ी कार्रवाई को अंजाम दे रहे हैं। इंदौर जबलपुर के बाद अब राजधानी भोपाल में भी प्रशासन ने माफियाओं पर कसा शिकंजा। आज प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई कर राजधानी भोपाल में लगभग 15 करोड़ की सरकारी जमीन मुक्त कराई है।

प्रशासन ने रप्पु का शासकीय भूमि से हटाया अतिक्रमण :

बता दें कि, थाना कोलार के अंतर्गत कजली खेड़ा चौकी के पास रहने वाले सरपंच ने शासकीय भूमि पर कब्जा किया था। सरपंच रप्पु ने करीब लाखों की लागत से मकान, दुकान और गोदाम का अवैध निर्माण किया था। प्रशासन ने पुलिस और नगर निगम की टीम के साथ कलजी खेड़ा सरपंच रप्पु का शासकीय भूमि से अतिक्रमण हटाया है।

अतिक्रमण हटाने में विवाद की स्थिति को देखते हुए थाना प्रभारी कोलार चंद्रकांत पटेल सवयं बल के साथ कार्रवाई में मौजूद। बताते चले कि मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद जिला प्रशासन नगर निगम और पुलिस प्रशासन तीनो ने संयुक्त कार्रवार्ई को अंजाम दिया। उक्त कार्रवाई कलेक्टर भोपाल अविनाश लवानिया के निर्देशानुसार एडीएम दिलीप यादव, एसडीएम क्षितिज शर्मा, तहसीलदार संतोष मुद्गल, अतिक्रमण अधिकारी रहे।

इससे पहले इंदौर और जबलपुर में हो चुकी ताबड़तोड़ कार्रवाई :

बता दें दिनांक 30 सितम्बर 2021 को नगर निगम, जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन द्वारा संयुक्त कार्रवाई करते हुए अवैध निर्माण करने एवं अवैध रूप से बार संचालन करने वाले के विरुद्ध कार्रवाई करते हुए 3 बार एवं रेस्टोरेंट का रिमूवल किया था।

वहीं, 27 सितम्बर को जबलपुर में प्रशासन और पुलिस ने माफियाओं पर कार्रवाई की थी, जबलपुर के गोरखपुर गुप्तेश्वर वार्ड स्थित शराब माफिया के आलीशान मकान पर सुबह-सुबह जिला प्रशासन ने बुलडोजर चला दिया था माफिया विराेधी अभियान के तहत भारी पुलिस बल की मौजूदगी में नगर निगम के अतिक्रमण दस्ते ने दो बुलडोजर की मदद से मकान को तोड़ने की कार्रवाई शुरू की थी, इस कार्रवाई से क्षेत्र में अन्य माफिया में हड़कंप मच गया था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co