मंदिरों का दीदार
मंदिरों का दीदार|Pankaj Yadav
मध्य प्रदेश

हजार साल से खड़े खजुराहो के मंदिर नायाब शिल्प के प्रतीक

छतरपुर, मध्यप्रदेश : फिल्म अभिनेत्री रहीं महिमा चौधरी पर्यटन नगरी खजुराहो में आयोजित पांचवें अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में हिस्सा लेने पहुंची।

Pankaj Yadav

राज एक्सप्रेस। फिल्म अभिनेत्री रहीं महिमा चौधरी पर्यटन नगरी खजुराहो में आयोजित पांचवें अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में हिस्सा लेने पहुंची। उन्होंने इस दौरान खजुराहो के खूबसूरत चंदेल कालीन मंदिरों का दीदार किया और इन मंदिरों की जमकर तारीफ की। अपनी बेटी के साथ मंदिरों को देखने के बाद उन्होंने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि, एक हजार साल पुराने इन मंदिरों को देखकर कोई नहीं कह सकता कि ये इतने पुराने हैं। उन्होंने कहा कि खजुराहो के इन मंदिरों को दुनिया के 7 अजूबों में शुमार किया जाना चाहिए।

अभिनेत्री महिमा चौधरी ने बेटी के साथ किया मंदिरों का दीदार
अभिनेत्री महिमा चौधरी ने बेटी के साथ किया मंदिरों का दीदार Pankaj Yadav

इन मंदिरों की शिल्पकला की सराहना करते हुए कहा-

उन्होंने इन मंदिरों की शिल्पकला की सराहना करते हुए कहा कि, वर्षों से वे खजुराहो के मंदिरों के बारे में सुनती आ रही थीं लेकिन इन्हें देखना एक सपने के सच होने जैसा है। उन्होंने कहा कि यह स्थान बहुत सुंदर और शांत है। फेस्टिवल के बारे में मीडिया से चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि, इस आयोजन की जितनी तारीफ की जाए कम है। इतने छोटे शहर में इतना बढ़िया आयोजन करना काबिले तारीफ है।

उन्होंने टपरा टॉकीज के कॉन्सेप्ट को भी सराहा और कहा कि खजुराहो को शूटिंग के लिए चुना जा सकता है।

मुझे इतना मिला जितना ऋतिक रोशन को भी नहीं मिला : हेमंत पांडे

टीवी और फिल्मों में हास्य अभिनेता के तौर पर शानदार अदाकारी दिखाकर लोगों के दिलों में अपनी जगह बनाने वाले हेमंत पांडे ने भी किफ के मंच से लोगों के साथ चर्चा की। उन्होंने कहा कि वे गांव की जिस पृष्ठभूमि से टीवी और सिनेमा के इस संसार में पहुंचे हैं उसके लिए यह जगत सपना था।

उन्होंने बताया कि मुंबई में जन्मे ऋतिक रोशन का फिल्मों में आ जाना बड़ी बात नहीं है लेकिन गाय-भैंस चराने वाले एक लड़के का फिल्मों में पहुंचना बड़ी बात है। उन्होंने अपने पुराने दिनों को याद करते हुए कहा कि जब वे पहली दफा दिल्ली पहुंचे थे तब उन्हें अंग्रेजी बोलने वाले हर आदमी में अपना भविष्य दिखाई देता था। उन्होंने नए कलाकारों से अपील करते हुए कहा कि वे भी अपने जीवन में सफलता के लिए भूख पैदा करें। उनके अलावा चिड़ियाघर जैसे सीरियल में बाबूजी का किरदार निभाने वाले राजेन्द्र गुप्ता ने भी मीडिया को संबोधित करते हुए इस फेस्टिवल और इसके आयोजक राजा बुन्देला की जमकर तारीफ की।

मंच से विभूतियों का हुआ सम्मान

खजुराहो फेस्टिवल के मंच पर बीती शाम मुंबई के कलाकारों और क्षेत्रीय कलाकारों रंगारंग कार्यक्रमों के साथ-साथ मंच से विभूतियों को भी सम्मानित किया गया। इस दौरान पत्रकारिता के क्षेत्र में राजीव शुक्ला, मुराद अली, समाजसेवी स्व. चीनी राजा, जलपुरुष उमाशंकर पांडे, अमित दुबे झांसी से क्षेत्रीय कलाकार उम्रदराज सिद्दीकी और मुंबई से आए फिल्म कलाकार कणिका महेश्वरी, हेमंत पांडे और राजेन्द्र गुप्ता को सम्मानित किया गया। इन विभूतियों को कार्यक्रम के अतिथि एडिशनल एसपी जयराज कुबेर, अभिनेत्री सुष्मिता मुखर्जी ने सम्मानित किया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co