Raj Express
www.rajexpress.co
डकैती की योजना बनाते तीन आरोपी गिरफ्तार
डकैती की योजना बनाते तीन आरोपी गिरफ्तार|Sudha Choubey - RE
मध्य प्रदेश

टीकमगढ़: डकैती की योजना बनाते तीन आरोपी हथियार सहित गिरफ्तार

जतारा, टीकमगढ़: चंदेरा थाना क्षेत्र के मैदवारा हाईस्कूल के पास डकैती की योजना बना रहे तीन युवकों को गिरफ्तार किया गया। अंधेरे का फायदा उठाकर दो बदमाश फरार हो गए। ये आरोपी डकैती डालने की फिराक में थे।

Abhay Mor

हाइलाइट्स:

  • डकैती की योजना बनाते तीन आरोपी गिरफ्तार दो बदमाश फरार

  • बदमाशों पर नज़र रखने हेतु थाना प्रभारियों को दिए गए थे निर्देश

  • सख्ती से पूछताछ करने पर सच्चाई आई सामने

  • पुलिस को मिली अहम सफलता

  • कार्यवाही करने वालो को किया जाएगा पुरस्कृत

राज एक्सप्रेस। डकैती की योजना बनाते तीन आरोपी दो आगनेय शस्त्र, 7 जिंदा कारतूस एवं एक लोहे की रॉड लिए गिरफ्तार। पुलिस अधीक्षक श्री अनुराग सुजानिया द्वारा लगातार जिले के गुंडे बदमाश एवं फरारी बदमाशों पर निगाह रखने हेतु थाना प्रभारियों को विशेष रुप से निर्देशित किया गया था। जिस तारतम्य में थाना चंदेरा पुलिस को एक बड़ी सफलता प्राप्त हुई।

अनुराग सुजानिया और प्रदीप सिंह राणावत ने बताया :

श्री अनुराग सुजानिया द्वारा एसडीओपी जतारा प्रदीप सिंह राणावत को बताया गया कि, कुछ संदिग्ध लोगों का मूवमेंट थाना चंदेरा दिगौड़ा क्षेत्र में चल रहा है, जो किसी वारदात को अंजाम देने वाले हैं। सूचना पर तत्काल एसडीओपी सिंह राणावत द्वारा थाना प्रभारी चंदेरा मनीष सिंघल को आवश्यक निर्देश देकर तत्काल कार्यवाही करने के लिए कहा गया।

पुलिस को मिली अहम् सफलता :

उक्त सूचना पर पुलिस को अहम् सफलता तब मिली जब थाना चंदेरा पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर, स्टॉप सहायक उपनिरीक्षक सुकरत राय, जेएन भगत एवं आरक्षक 113 ,आरक्षक 144 , देवेंद्र आरक्षक 203 , देवेंद्र आरक्षक 669 , अमित आरक्षक 545, रामचंद्र नायक आरक्षक 671, निहाल के साथ मुखबिर को बताई जगह ग्राम में के. हाई स्कूल के पास पहुंचकर घटना की तस्दीक की, जहां 5 लोग आपस में शिवदयाल राय के घर में डकैती डालने की योजना बना रहे थे।

की गई घेराबंदी :

मुखबिर की बात की पुष्टि होने पर तुरंत थाना प्रभारी चंदेरा द्वारा हमराह स्टाफ को तीन पार्टियों में बांट कर चालाकी से घेराबंदी कर दी। पुलिस को आता देख कर सभी व्यक्ति भागने लगे, जिनमें से तीन व्यक्तियों को पुलिस ने अपनी गिरफ्त में ले लिया बाकी के दो व्यक्ति अंधेरे का फायदा उठाकर भागने में सफल रहे।

सख्ती से की गई पूछताछ :

जब इन व्यक्तियों से सख्ती से पूछताछ की गई, तो इन्होंने अपना नाम अनीश खान पिता मुंशी खान उम्र 35 साल निवासी बड़ी माता के पास मचपटिया मोहल्ला बड़ा गांव झांसी, मनीष कोरी पिता अमद कोरी उम्र 20 साल निवासी रानीपुर, कल्लू उर्फ सतीश पिता मनमोहन साहू उम्र 28 साल निवासी ग्राम श्याम बताया, जिन्हें गिरफ्तार किया गया। मौके से इनके दो साथी भागने में सफल हुए, जिनके नाम बाद में पूछताछ पर करण यादव निवासी खुशीपुरा, लिधौरा जय हिंद घोष निवासी मऊ बुजुर्ग थाना दिगौड़ा का होना पता चला, जिनका पता लगाने के प्रयास किए जा रहे हैं।

घटनास्थल पर ही आरोपियों की तलाशी लेने पर बरामद:

  • आरोपी अनीश खान के कब्जे से देसी 12 बोर का एक कट्टा एवं 12 बोर के पांच जिंदा कारतूस,

  • आरोपी कल्लू और सतीश के कब्जे से 315 बोर का एक कट्टा एवं 315 बोर के दो जिंदा कारतूस

  • आरोपी मनीष कोरी के कब्जे से एक लोहे की रॉड बरामद की गई एवं घटनास्थल से एक सफेद रस्सी एवं टॉर्च मिली।

आरोपियों के खिलाफ प्रकरण पंजीबद्ध :

इस मामले में थाना चंदेरा में अपराध क्रमांक 152/19 धारा 399 402 भादवी एवं 25 27 आर्म्स एक्ट का पंजीबद्ध किया गया है। ज्ञातव्य है कि, आरोपी कल्लू उर्फ सतीश साहू के विरुद्ध 4 प्रकरण पंजीबद्ध हैं एवं धारा 107 116 धारा 110 जाफो 122. 4 के तहत प्रतिबंधात्मक कार्यवाही थाना चंदेरा से पूव से ही की गई है एवं अन्य आरोपियों का भी जिला झांसी में आपराधिक रिकॉर्ड है, जो थाने से संपर्क कर प्राप्त किया जाएगा।

इन्हें पुरस्कृत करने की घोषणा:

इस कार्यवाही के लिए पुलिस अधीक्षक श्री अनुराग सुजानिया ने टीम के सभी सदस्यों को पुरस्कृत करने की घोषणा की है।