Panna Tiger Reserve
Panna Tiger Reserve|Social Media
मध्य प्रदेश

पन्ना: टाईगर रिज़र्व में बाघों की सुरक्षा पर फिर मंडरा रहा है खतरा

हीरों के खादान के लिए विश्व प्रसिद्ध मध्य प्रदेश का जिला पन्ना अपने टाइगर रिज़र्व को लेकर हमेशा ही सुर्खियों में रहा है। पिछले कुछ सालों में यहां बाघों की आबादी में एक उल्लेखनीय बदलाव आया है।

Megha Sinha

राज एक्सप्रेस, पन्ना: हीरे के खादान के लिए विश्व प्रसिद्ध मध्य प्रदेश का जिला पन्ना अपने टाइगर रिजर्व को लेकर हमेशा ही सुर्खियों में रहा है। पिछले कुछ सालों में यहां बाघों की आबादी में एक उल्लेखनीय बदलाव आया है। साल 2009 में शुन्य से शुरु हुए सफर के तहत अब तक पन्ना में 90 से भी ज्यादा शावकों का जन्म हो चुका है।

Tiger
Tiger Social Media

बाघों की संख्या में उल्लेखनीय बदलाव

जहां एक दशक पहले बाघों की संख्या काफी कम दर्ज की गयी थी। वहीं आज पूरे प्रदेश में बाघ की कुल संख्या 526 हो गयी है। वहीं कोर क्षेत्रों में 50 से भी ज्यादा बाघ घूमते नजर आ रहे हैं।बफर क्षेत्र एवं आसपास के जंगलो में डेढ़ दर्जन बाघ मौजूद हैं। साथ ही पन्ना लैंड स्कैप में भी बड़ी संख्या में बाघ विचरण करते नजर आ रहे हैं। पन्ना के इस टाईगर प्रोजेक्ट की कामयाबी ने एक बार फिर से म.प्र को सबसे ज्यादा बाघों वाले प्रदेश का दर्जा दिलाने में सफल रहा है जिसे कर्नाटक ने साल 2010 में ले लिया था।

Raj Express
www.rajexpress.co