कोर्ट के आदेश पर मंदिर से अदालत लाए गए भगवान

टीकमगढ़, मध्यप्रदेश : जिले में अनोखा मामला आया सामने, साक्ष्य के तौर पर कोर्ट में पेश की गई भगवान कृष्ण और राधा की मूर्ति।
कोर्ट के आदेश पर मंदिर से अदालत लाए गए भगवान
कोर्ट के आदेश पर मंदिर से अदालत लाए गए भगवानDeepika Pal - RE

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश के टीकमगढ़ जिले से अनोखा मामला सामने आया है जहां 11 साल पुराने केस की सुनवाई के दौरान कोर्ट में भगवान कृष्ण और राधा की मूर्तियों को पेश किया गया। इस मामले में कोर्ट ने मूर्तियों के समक्ष सिर नवाकर पहचान के बाद मूर्तियों को मंदिर में यथास्थान पर ही रखने के आदेश दिए हैं। दरअसल चोरी के मामले में बांके बिहारी मंदिर की मूर्तियों को सबूत के तौर पर कोर्ट में पेश करने का निवाड़ी न्यायालय द्वारा नोटिस दिया गया था।

क्या है मामला :

जानकारी के मुताबिक, प्रदेश के टीकमगढ़ जिले के पृथ्वीपुर किले में स्थित बांके बिहारी मंदिर की भगवान कृष्ण और राधा की मूर्तियों को पेश किया गया, मुद्दा यह था कि जनवरी 2009 में चार लोगों द्वारा मंदिर से मूर्तियां और कीमती वस्तुएं चुराई गई थी, जिस पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने एक हफ्ते के भीतर मूर्तियों के साथ आरोपियों को गिरफ्तार किया था। वहीं न्यायालय ने भी इस मामले में कार्रवाई करते हुए आरोपियों को 3-3 साल की सजा सुनाई थी, हालांकि आरोपियों द्वारा दावा किया गया था कि, उन्होंने कुछ नहीं चुराया था। चोरी गई मूर्तियों को बरामद करने के बाद कुछ दिन मूर्तियां थाने में रखी रहीं। इसके बाद कोर्ट के आदेश पर मूर्तियों को मंदिर में विराजमान कराया गया था। जिस पर अब 11 सालों बाद निवाड़ी कोर्ट ने मामले की सुनवाई में मूर्तियों को कोर्ट में लाने नोटिस दिया था।

भव्य आरती कर ले जाया गया कोर्ट :

इस मामले में मंदिर के पुजारी का कहना है निवाड़ी कोर्ट से एक नोटिस मिला था जिसमें केस की सुनवाई में साक्ष्य के तौर पर भगवान की मूर्तियों को पेश किया जाना है। जिसके बाद कोर्ट ले जाने से पूर्व सुबह मंदिर में भव्य आरती के बाद और मूर्तियों को कोर्ट ले जाया गया जिसके जुलूस में बड़ी तादाद में लोग मौजूद रहे। वहीं लोगों का कहना है कि, मूर्तियां देखने के लिए जज खुद क्यों नहीं मंदिर पहुंचे। अदालत को इस मामले को सुलझाने के लिए कोई और रास्ता निकालना चाहिए था। चोरों को कोर्ट से सजा मिलनी चाहिए।’

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co