आज सिवनी में पीड़ित आदिवासियों से मिलने पहुंचे ये कांग्रेसी नेता
आज सिवनी में पीड़ित आदिवासियों से मिलने पहुंचे ये कांग्रेसी नेताSocial Media

आज सिवनी में पीड़ित आदिवासियों से मिलने पहुंचे ये कांग्रेसी नेता

सिवनी, मध्यप्रदेश। आज छिंदवाड़ा सांसद नकुलनाथ, नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविंद, पूर्व मंत्री तरुणएवं विधायक विनय सक्सेना सिवनी जिले में पीड़ित आदिवासी परिवारों से मिलने पहुंचे।

सिवनी, मध्यप्रदेश। सिवनी जिले के आदिवासी बहुल कुरई विकासखंड क्षेत्र में बीते दिनों जमकर हंगामा हुआ था। कुरई के गांव सिमरिया में गोकशी के आरोप में दो आदिवासी व्यक्तियों को कुछ लोगों ने पीट पीटकर मार डाला था, इस बीच आज सिवनी में पीड़ित आदिवासियों से मिलने कांग्रेस के कई नेता पहुंचे है।

सिवनी पहुंचे ये कांग्रेस नेता :

मिली जानकारी के मुताबिक, आज नेता प्रतिपक्ष डॉ.गोविंद सिंह , छिंदवाड़ा सांसद नकुल नाथ, पूर्व मंत्री तरुण भनोत, विधायक विनय सक्सेना सिवनी पहुंचे। यह सभी सिवनी में पीड़ित आदिवासी परिवारों से मिलने पहुंचे।

एमपी कांग्रेस ने किया ट्वीट :

मध्यप्रदेश कांग्रेस ने ट्वीट कर लिखा- पीड़ित आदिवासियों के साथ कांग्रेस : छिंदवाड़ा सांसद नकुलनाथ जी, नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविंद सिंह जी, पूर्व मंत्री तरुण भनोत जी एवं विधायक विनय सक्सेना जी सिवनी जिले में पीड़ित आदिवासी परिवारों से मिले।

नेताओं ने हर संभव मदद करने का दिया आश्वासन

इस बीच छिंदवाड़ा सांसद नकुलनाथ जी, नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविंद सिंह जी, पूर्व मंत्री तरुण भनोत जी एवं विधायक विनय सक्सेना जी ने पीड़ित आदिवासी परिवारों से मिलकर उन्हें न्याय दिलाने एवं हर संभव मदद करने का आश्वासन दिलाया।

दरअसल, मध्यप्रदेश के सिवनी में मॉब लिंचिंग के शक में आदिवासियों को लाठियों से जमकर पीटा गया। इसमें दो लोगों की मौत हो गई। इस मामले में कमल नाथ ने तीन विधायकों की कमेटी बनाई है, जो पीड़ित परिवारों से मुलाकात करेगी। कमेटी में विधायक ओंकार सिंह मरकाम, डॉक्टर अशोक व नारायण पट्टा शामिल हैं।

सिवनी जिले के आदिवासी बहुल कुरई विकासखंड क्षेत्र में जनजातीय समुदाय से जुड़े दो लोगों की पीट पीट कर हत्या के मामले को लेकर कमलनाथ ने ट्वीट कर कहा था- आदिवासियों की हत्या में शामिल आरोपितों के भाजपा से जुड़े होने की जानकारी सामने आई है, उन्होंने सरकार से इस घटना की उच्च स्तरीय जांच करने, दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने व पीड़ित परिवारों की हरसंभव मदद करने की मांग की है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.