निवाड़ी: जिले को अपराध मुक्त करने के बाद भी अल्प समय में ट्रांसफर, दिखा जनता में आक्रोश
विदाई समारोह का आयोजन। रवि सोलंकी

निवाड़ी: जिले को अपराध मुक्त करने के बाद भी अल्प समय में ट्रांसफर, दिखा जनता में आक्रोश

निवाड़ी, मध्य प्रदेश में एसपी आलोक कुमार सिंह का स्थानांतरण ग्वालियर हो जाने पर दी गई भाव भीनी विदाई, उनके कार्यकाल की हुई सराहना, जिले में माफिया एवं अपराधियों में रहा पुलिस का खौफ।

निवाड़ी, मध्य प्रदेश। पुलिस अधीक्षक कार्यालय परिसर में पुलिस अधीक्षक आलोक कुमार सिंह का स्थानांतरण ग्वालियर हो जाने पर विदाई समारोह का आयोजन किया गया। जिसमें उपस्थित मीडिया के प्रतिनिधि जिले का पुलिस स्टाफ एवं अपर कलेक्टर एसके अहिरवार एडिशनल एसपी सुरेंद्र सिंह डावर विशेष रूप से उपस्थित रहे।

पुलिस अधीक्षक आलोक कुमार सिंह ने निवाड़ी जिले का कार्यभार 11 फरवरी 2020 को संभाला था। छोटे समय का कार्यकाल जिले में कानून व्यवस्था एवं अपराधों पर रोकथाम वहीं, उनके कार्यकाल के दौरान कोई भी गंभीर अपराध घटित नहीं हुए।

एसपी आलोक कुमार सिंह के 7 महीने के कार्यकाल पर जिले में अपराधों पर लगाम लगी। जिले को पहली बार अपराध मुक्त किया, वहीं प्रदेश के मुख्यमंत्री एवं पुलिस मुख्यालय के निर्देशानुसार लगातार जिले के माफियाओं के विरुद्ध लगातार कार्रवाई की गई। चाहे वह शराब माफिया, भूमाफियाओं, खनिज माफिया के विरुद्ध लगातार कार्रवाई की गई। जिसमें एनएसए एवं जिला बदल की कार्यवाही की गई, वहीं जिले में हजारों लीटर कच्ची अवैध शराब भी पकड़ी गई और अपराधियों पर कार्यवाही की गई।

जिले में एसपी आलोक कुमार सिंह के कार्यकाल में अपराधों पर नियंत्रण रहा, वहीं शासकीय जमीनों पर भू माफियाओं के द्वारा कब्जा कर अतिक्रमण की गई जमीन को मुक्त कराया गया। जिले में करीब 10 करोड़ की शासकीय भूमि अतिक्रमण कर्ताओं से मुक्त कराई गई, वहीं अवैध कॉलोनियों के विरुद्ध लगातार कार्यवाही की गई। जिसमें जिले में करीब 12 एफआईआर कॉलोनाइजर के विरुद्ध की गई।

लगातार जिले में अपराधियों में नकेल कसी गई, गुंडों में खौफ छाया रहा। जिले को अपराध मुक्त जिला बनाया। कोरोना जैसे लहर में एसपी आलोक कुमार सिंह ने जिले के यूपी बॉर्डर पर बनाए गए 18 नाकों पर स्वयं पहुंचकर कमान संभाली और जिले की सीमा में उस दौरान कोई बाहरी व्यक्ति प्रवेश नहीं कर पाया। जिले को कोरोना वायरस से मुक्त रखा, वहीं उन्होंने जिले के पुलिस आरक्षक अधिकारियों का फूल मालाओं से सम्मान भी किया।

वक्ताओं ने कहा कि, इसके बाद भी बिना कारण के ही जिले के ईमानदार निष्पक्ष कार्रवाई करने वाले ऐसे पुलिस अधिकारी का स्थानांतरण हो जाने पर जिले की जनता में रोष देखा जा रहा है। उपस्थित वक्ताओं ने पुलिस अधीक्षक के सात महीने के कार्यकाल की भूरी-भूरी सराहना की। विदाई समारोह के दौरान एसपी सिंह का माल्यार्पण एवं पुष्पगुच्छ देकर स्वागत किया गया। वहीं जिला पुलिस बल के द्वारा भगवान श्री राम राजा सरकार का राम दरबार का स्मृति चिन्ह भेंट किया।

विदाई समारोह में एसडीओ पुलिस संतोष पटेल, पत्रकार ओमप्रकाश खरे, हसन मोहम्मद, सुनील मोदी, सुधीर त्रिवेदी, रमाकांत, रजक, सुधीर, नायक, हृदेश दुबे, मयंक दुबे, विवेक दांगी, रूपेंद्र राय, कमल सोनी, राजीव गुप्ता, ऋषि खेवरिया एवं रक्षित निरीक्षक बृहस्पति कुमार साकेत, उप पुलिस अधीक्षक निकिता गोगुलवार, नगर निरीक्षक नरेंद्र सिंह परिहार, नगर निरीक्षक नरेंद्र त्रिपाठी, पृथ्वीपुर थाना प्रभारी सिमरा बलराम सिंह यादव, थाना प्रभारी सेंदरी सुरेंद्रनाथ सिंह यादव, थाना प्रभारी जेरोन प्रवीण त्रिपाठी, थाना प्रभारी ओरछा अभय प्रताप सिंह, लीलाधर तिवारी, गुलाब बाबू शर्मा, संजय शर्मा, रीडर ओपी रजक खान साहब सहित अनेक जिले के पुलिस अधिकारी मीडिया प्रतिनिधि उपस्थित रहे। समारोह का संचालन एवं आभार व्यक्त एडिशनल एसपी सुरेंद्र सिंह डावर ने किया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co