Raj Express
www.rajexpress.co
तीनो यार्डों से मिली बिना टैक्स की 400 गाड़ियां।
तीनो यार्डों से मिली बिना टैक्स की 400 गाड़ियां।|Priyanka Yadav - RE
मध्य प्रदेश

परिवहन विभाग की छापामार कार्रवाई, होगी करोड़ों की राजस्व वसूली

भोपाल, मध्यप्रदेश : राजधानी भोपाल में तीन यार्डों पर परिवहन विभाग की बड़ी कार्रवाई। डिप्टी कमिश्नर की अगुवाई में छापेमार कार्रवाई की गई।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में तीन यार्डों पर परिवाहन विभाग की बड़ी कार्रवाई हुई। मिली जानकारी के अनुसार डिप्टी कमिश्नर संजय सोनी की अगुवाई में छापेमार कार्रवाई की गई। भोपाल समेत मंडीदीप श्री राम यार्ड, SSWL यार्ड और करोंद श्रीराम ट्रांसपोर्ट पर परिवहन विभाग की कार्रवाई की गई है।

जानिए पूरा मामला :

मिली जानकारी के अनुसार श्री राम यार्ड, SSWL यार्ड और करोंद श्रीराम ट्रांसपोर्ट को सील किया गया है। आपको बता दें कि तीनों यार्डों पर 1 करोड़ 80 लाख रु टैक्स वसूलने की संभावना जताई जा रही है। तीनों यार्डों से बिना टैक्स की 400 गाड़ियां मिली है। तीनों डिपो के अंदर बिना टेक्स जमा किए कर्मिशियल वाहन मिले। कार्रवाई का मुख्य उद्देश्य राजस्व वसूली है।

तीनो यार्डों से मिली बिना टैक्स की 400 गाड़ियां।
तीनो यार्डों से मिली बिना टैक्स की 400 गाड़ियां।
Priyanka Yadav - RE

परिवहन विभाग का कहना है कि :

परिवहन माफिया करते हैं टैक्स चोरी। टैक्स चोरी करने माफिया यार्ड में छुपा देते हैं वाहन। इसलिए हमने यार्डों पर छापामारी की कार्रवाई की, भोपाल शहर में कार्रवाई चल रही है। परिवहन विभाग की छापामार कार्रवाई से हड़कंप मच गया है, टैक्स चोरी की 400 गाड़ियां मिलीं।

आपको बताया जा रहा है तीनों यार्ड से लंबे समय से टैक्स चोरी करने की जानकारी मिल रही थी। ट्रांसपोर्टर टैक्स चोरी करते हैं और गाड़ियों को छुपा देते हैं ऐसे में उनसे राजस्व वसूली करने के लिए एक अभियान किया गया है जो निरन्तर चलता रहेगा जब तक टैक्स वसूल नही हो जाता।

4 शहरों की 1800 सोसाइटी की चिन्हित : इस संबंध में सहकारिता विभाग ने प्रदेश के भोपाल, इंदौर, जबलपुर और ग्वालियर की 1800 सोसाइटियों को चिन्हित किया है। जिनके रिकॉर्डों की जांच कर विभाग एक रिपोर्ट तैयार करेगा, जिसे सरकार को सौंपा जाएगा। जानकारी के मुताबिक, विभाग ने जबलपुर की 90 सोसाइटी को चिन्हित कर जांच के दायरे में रखा है। बता दें कि, प्रदेश सरकार द्वारा भू- माफियाओं पर कार्रवाई करने के बाद अब विभाग ने सोसाइटियों के केस के आधार पर जांच करने का फैसला लिया। जिसमें जांच 16 बिंदुओं के आधार पर की जाएगी।

प्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश को माफिया मुक्त बनाए रखने के लिए लगातार सख्त कदम उठाए जा रहे हैं, इसमें अब धोखाधड़ी के मामलों पर भी सरकार ने कार्रवाई करना शुरू कर दिया है। दरअसल जमीन से जुड़े मामलों पर धोखाधड़ी की शिकायतें मिल रही थीं। जिसमें अब सहकारिता विभाग भी फर्जी सोसायटियों के रिकॉर्ड खंगाल कर कार्रवाई करेगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।