Umaria : जन जातीय कल्याण मंत्री ने एसएचजी की महिलाओं का किया उत्साह वर्धन
जन जातीय कल्याण मंत्री ने एसएचजी की महिलाओं का किया उत्साह वर्धनराज एक्सप्रेस, संवाददाता

Umaria : जन जातीय कल्याण मंत्री ने एसएचजी की महिलाओं का किया उत्साह वर्धन

मंत्री सुश्री मीना सिंह ने आजीविका मिशन के तहत गठित स्व सहायता समूहों की महिलाओं के सम्मेलन में उपस्थित होकर महिलाओं द्वारा संचालित की जा रही गतिविधियों का अवलोकन किया तथा उनका उत्साह वर्धन किया।

उमरिया, मध्यप्रदेश। प्रदेश शासन की जन जातीय कार्य मंत्री सुश्री मीना सिंह ने जिले के मानपुर जनपद पंचायत के विभिन्न ग्रामों दमोय, महरोई में ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत गठित स्व सहायता समूहों की महिलाओं के सम्मेलन में उपस्थित होकर महिलाओं द्वारा संचालित की जा रही गतिविधियों का अवलोकन किया तथा उनका उत्साह वर्धन किया। महिला स्व सहायता समूहों द्वारा तैयार उत्पादों को देखकर वे अत्यंत प्रसन्न थीं।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार की महिला नीति से यह सब संभव हो पाया है। सरकार की मंशा है कि महिलाएं आर्थिक क्षेत्र में निर्भर बनें। परिवार एवं समाज के निर्णयों में उनकी अहम भूमिका हो। बच्चों की पढाई स्वयं के खर्चे के लिए किसी की मोहताज रहना पड़े। सरकार ने महिलाओं को स्व सहायता समूह के माध्यम से संगठित कर उनका कौशल उन्नयन कर उनकी रूचि के अनुरूप घर पर ही काम देने का काम शुरू किया है। अब महिलाएं घर पर ही सिलाई, कढ़ाई, बांस के बर्तन बनानें, काष्ट शिल्प, पेंटिंग तैयार करनें, मूर्तियां बनानें, कैफों का संचालन करनें, पार्किग का संचालन करने जैसे काम बढ़-चढ़कर कर रही है। इससे उनका आत्म विश्वास बढ़ा है। सामाजिक एवं पारिवारिक तथा जीवन स्तर मे सुधार आया है। महिलाओं का मनोबल बढ़ने से बच्चों की पढ़ाई, आवास व्यवस्था, स्वास्थ्य सुविधाओं की वृद्धि, साफ -सफाई के क्षेत्र में भी परिणाम मूलक कार्य हुए हैं।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ग्रामीण आजीविका मिशन के माध्यम से महिलाओं की उन्नति के लिए संकल्पित है। निरंतर इस दिशा में कार्य किए जा रहे हैं, जिससे महिलाओं के शिक्षा के स्तर में वृद्धि होने के साथ ही आत्म निर्भरता की ओर उनके कदम अग्रसर हुए हैं। इस अवसर पर स्थानीय जनप्रतिनिधि, स्व-सहायता समूह के अध्यक्ष, एनआरएम के पदाधिकारी उपस्थित रहे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.