उज्जैन: शहर में बर्ड फ्लू ने दी दस्तक, बगीचे में मृत मिले 6 से ज्यादा कौवे
बगीचे में मृत मिले 6 से ज्यादा कौवे Deepika Pal - RE

उज्जैन: शहर में बर्ड फ्लू ने दी दस्तक, बगीचे में मृत मिले 6 से ज्यादा कौवे

उज्जैन, मध्यप्रदेश: शहर में कार्तिक मेला ग्राउंड के कालिदास पार्क में आज मंगलवार सुबह करीब 6 से ज्यादा मृत कौवे जमीन पड़े मिले।

उज्जैन, मध्यप्रदेश। नए साल की शुरूआत के साथ जहां कोरोना महामारी का असर कम होने लगा है तो वहीं दूसरी तरफ प्रदेश में नए वायरसों और बर्ड फ्लू की दस्तक हो गई है। इस बीच ही शहर में कार्तिक मेला ग्राउंड के कालिदास पार्क में आज मंगलवार सुबह करीब 6 से ज्यादा मृत कौवे जमीन पड़े मिले। जहां इसकी सूचना मौजूद लोगों ने प्रशासन को दी है।

डॉक्टरों ने यह तर्क देते हुए कही बात

इस संबंध में, इस घटना पर पशुपालन विभाग के उप संचालक डॉ हरिवल्लभ त्रिवेदी ने बताया कि, शहर के विभिन्न क्षेत्रों से कौवों के मृत पाए जाने की सूचना मिली है जिसे लेकर घबराने और किसी प्रकार की चिंता करने की जरूरत नहीं है। आगे कहा कि, इसका कारण सर्दियों के मौसम में पक्षियों को एवियन इंफ्लूएंजा नाम की बीमारी हो सकता है जिससे पक्षियों की मौत होती है। जो मनुष्य के लिहाज से घातक नहीं है। वहीं इस दौरान करीब 26 कौवों की मौत होने की खबर मिली है। जहां डॉ. त्रिवेदी ने आम लोगों से अपील करते हुए कहा कि, मृत कौवों को खुले में न छोड़ें, उन्हें जमीन में दफन कर दें। विभाग प्रभावित क्षेत्रों में दवाओं का छिड़काव कराएगा। ताकि पक्षियों में यह बीमारी फैलने नहीं पाए।

कीटनाशकों के प्रभाव में आने से होती है कौवों की मौत

इस संबंध में, डॉ. त्रिवेदी ने आगे कहा कि, इस समय खेतों में चना व मटर की फसल है। जहां किसान उन पर कीटनाशक दवाओं का ज्यादा मात्रा में प्रयोग करते हैं। इसके अलावा पक्षी चना और मटर के दाने खाते हैं और कीटनाशकों के प्रभाव में आने के बाद उनकी मौत होती है। साथ ही बताते चलें कि, शहर के शिप्रा नदी के रेती घाट, कार्तिक मेला ग्राउंड के कालिदास उद्यान, नगर निगम के विद्युत शवदाह गृह परिसर, घटि्टया तहसील के पान विहार और खाचरौद में मृत कौवें पाए गए हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co