अयोध्या, श्रीराम व गंगा भाजपा की प्रॉपर्टी नहीं है- उमा भारती
अयोध्या, श्रीराम व गंगा भाजपा की प्रॉपर्टी नहीं है- उमा भारती|Social Media
मध्य प्रदेश

अयोध्या, श्रीराम व गंगा भाजपा की प्रॉपर्टी नहीं है- उमा भारती

ग्वालियर, मध्य प्रदेश : कांग्रेस अब सत्ता में नहीं आएंगी उसे परमानेंट विपक्ष में ही रहना होगा। विपक्ष में कैसे काम किया जाता है इसके लिए अगर ट्रैनिंग लेने की जरूरत हो तो हम दे देगें।

राज एक्सप्रेस

राज एक्सप्रेस

ग्वालियर, मध्य प्रदेश। अयोध्या, श्रीराम व गंगा को भाजपा पहले अपनी प्रॉपर्टी मानकर काम कर रही थी और जब कांग्रेसी किसी मंदिर पर जाते थे तो भाजपा नेता सवाल उठाते थे, लेकिन अब पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने यह कहकर चौका दिया है कि अयोध्या, श्रीराम व गंगा भाजपा की प्रॉपर्टी नहीं बल्कि वह सभी धर्मो एवं देश के लोगों के है। उमा भारती मंगलवार को ग्वालियर आई थी।

महाराष्ट्र में कंगना रनौत को लेकर पूछे गए सवाल पर उमा ने कहा कि इस तरह की बात राजनीतिज्ञों से मत पूछा करों, हमें इस मामले से कोई लेना देना नहीं है। कमलनाथ कह रहे है कि 27 सीटे कांग्रेस जीतेगी? इस पर उमा ने कहा इसमें नई बात क्या है, यह तो सभी दल के लोग कहते है। अब कमलनाथ कह रहे है और वह ग्वालियर आ रहे है तो उनको कौन रोक सकता है, लोकतंत्र है सभी को बोलने एवं आने-जाने की आजादी है।

कांग्रेस द्वारा आखिर विरोध कर काले झंडे क्यों दिखाएं जा रहे है? इस सवाल पर पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने कहा कि सभी को विरोध करने का अधिकार है, लेकिन विरोध शालीन होना चाहिए। अब कांग्रेस को जो लोग छोड़कर गए है उसके बारे में कांग्रेस को चिंतन करना चाहिए, कुछ तो कमी रही होगी। मैं कमलनाथ से बात कर कहूंगी कि अपने कार्यकर्ताओ को कहो कि विरोध छोड़ मुद्दो पर लड़े, वैसे कमलनाथ काफी शालीन व्यक्ति है। हम भी विपक्ष में रहे है और जनता के लिए मुद्दो पर लड़ाई लड़ने का काम किया, अटलजी ने तो कभी किसी के लिए अपशब्द तक नहीं बोला तो फिर कांग्रेसियो को कम से कम उन्ही से कुछ सीख लेना चाहिए थी। भाजपा तो 2003 में आकर सत्ता में आई है।

उमा ने बताया कि कांग्रेस को अब परमानेंट विपक्ष में रहना है, क्योंकि अब सत्ता में तो आ नहीं सकती है इसलिए मैं कमलनाथ से कहूंगी कि विपक्ष में कैसे काम किया जाता है इसके लिए अगर ट्रैनिंग लेने की जरूरत हो तो हम दे देगें, क्योंकि कांग्रेस को विपक्ष में रहने की ज्यादा आदत नहीं है, लेकिन अब जनता उनको सत्ता देना नहीं चाहती तो फिर ट्रैनिंग हमसे ले लें। उमा भारती ने स्व. अटलजी की तारीफ करते हुए कहा कि हमने उनसे काफी कुछ सीखा है, अयौध्या का आंदोलन किया तो पुलिस की लाठी-डंडे खाएं पर पुलिस पर कभी हमला नहीं किया और न गाड़ियां जलाई, लेकिन अब जो राजनीति की पीढी है वह जल्द ही उत्तेजित हो जाती है, राजनीति करने वालो को उत्तेजित नहीं बल्कि शालीन होना चाहिए, क्योकि जनता सब देखती है।

प्रद्युम्न पहुंचे उमा से मिलने, पैर छू लिया आशीर्वाद :

पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती के ग्वालियर आने की जानकारी लगने पर मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर उनसे मिलने के लिए सर्किट हाउस पहुंच गए। इस दौरान मंत्री तोमर ने पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती के चरण स्पर्श कर आशीर्वाद लिया। इस मौके उमा ने प्रद्युम्न से कहा कि मेरा आशीर्वाद है और कोई दिक्कत हो तो मुझे फोन कर देना।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co