विचारकों का एक धड़ा JNU में जहर घोल रहा है : उमा भारती
विचारकों का एक धड़ा JNU में जहर घोल रहा है : उमा भारती |Social Media
मध्य प्रदेश

विचारकों का एक धड़ा JNU में जहर घोल रहा है : उमा भारती

मध्यप्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने JNU में हुई हिंसा को लेकर कहा कि "विचारकों का एक धड़ा यूनिवर्सिटी के वातावरण में जहर घोल रहा है।"

Aditya Shrivastava

राज एक्सप्रेस। भाजपा की वरिष्ठ नेत्री और मध्यप्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी(JNU) में रविवार को हुई हिंसा को लेकर कहा कि विचारकों का एक धड़ा यूनिवर्सिटी के वातावरण में जहर घोल रहा है। उन्होंने इन विचारकों की तुलना सांपों की एक विशेष प्रजाति से की। उमा ने कहा कि ऐसे सांप संख्या में तो कम हैं, लेकिन बहुत जहरीले होते हैं। हमें समाधान निकालकर उन्हें ठीक करना होगा।

JNU हिंसा पर भाजपा नेता उमा भारती ने कहा कि देश में कुछ विचारक हैं जो एक विशेष साँप की तरह हैं जो संख्या में कम हैं लेकिन अत्यधिक जहरीले हैं। पर्यावरण को जहरीला बनाने के प्रयास किए जा रहे है। हमें कुछ चीजों को ठीक करना होगा और हम उन्हें ठीक कर देंगे।

उमा भारती ने नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA 2019) के समर्थन में छतरपुर में आयोजित प्रबुद्धजन संगोष्ठी को संबोधित करते हुए कहा कि यह नागरिकता देने का कानून है, छीनने का नहीं। भारत में रहने वाले किसी मुस्लिम भाई-बहन को इससे डरने की जरूरत नहीं है। यह मानवीय कानून है। पाकिस्तान, बांग्लादेश, अफगानिस्तान से धार्मिक आधार पर प्रताड़ित होकर जो हमारे हिंदू, सिख भाई-बहन भारत आए हैं, उन्हें भारत की नागरिकता दी जाएगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co