वन मंडल की अनूठी पहल
वन मंडल की अनूठी पहल|Priyanka Yadav - RE
मध्य प्रदेश

होलिका दहन के साथ प्रकृति सुरक्षा पर वन मंडल की अनूठी पहल

भोपाल, मध्यप्रदेश : रंगों का त्यौहार कहे जाने वाले पर्व होली दहन और प्रकृति सुरक्षा पर वन मंडल का बड़ा फैसला...

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

राज एक्सप्रेस। भारतीय रंगों के त्योहार होली (Holi 2020) का बड़ी ही बेसब्री से इंतजार सभी को है। होली एक ऐसा रंगबिरंगा त्योहार है, जिसे हर धर्म के लोग पूरे उत्साह और मस्ती के साथ मनाते हैं। प्यार भरे रंगों से सजा यह पर्व हर धर्म, संप्रदाय, जाति के बंधन खोलकर भाई-चारे का संदेश देता है। रंगों का त्यौहार कहा जाने वाला यह पर्व होली दहन और प्रकृति सुरक्षा पर वन मंडल का बड़ा फैसला...

होली के लिए खुलेंगे अस्थाई लकड़ी विक्रय केन्द्र :

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपालवासियों को होली पर्व पर जलाऊ लकड़ी आसानी से उपलब्ध कराने के लिये भोपाल वन मंडल 9 मार्च को अहमदपुर डिपो सहित शहर के 8 स्थानों पर अस्थाई लकड़ी विक्रय केन्द्र खोलेगा।

इन केन्द्रों पर मिलेगी लकड़ी :

इन केन्द्रों पर सुबह 10 बजे से 7 रूपये 42 पैसे प्रति किलो की दर से लकड़ी मिलेगी। वन मंडल अधिकारी एच.एस.मिश्रा ने बताया कि, होली के लिये अहमदपुर डिपो सहित सभी केन्द्रों पर कुल 230 क्विंटल जलाऊ लकड़ी की व्यवस्था की गई है। बिट्टन मार्केट और मयूर विहार में बने अस्थाई डिपो को 40-40 क्विंटल, कोलार पत्रकार कालोनी को 20 क्विंटल, सर्वधर्म कालोनी को 70 क्विंटल, गोविन्दपुरा, जहाँगीराबाद, बैरागढ़ और मंगलवारा केन्द्र को 15-15 क्विंटल जलाऊ लकड़ी दी जा रही है।

शुभकामनाएं देते हुए की अपील :

वन मंत्री उमंग सिंघार ने प्रदेशवासियों को होली पर्व की शुभकामनाएं देते हुए अपील की है कि होली में कम से कम लकड़ी का उपयोग करें। उन्होंने कहा होली के लिए जलाऊ लकड़ी ही उपयोग में लायें, हरे भरे पेड़ बिलकुल न काटें। उन्होंने आग्रह किया है कि होली में गोबर के कंडे और गौ-काष्ठ का उपयोग करें।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co