Umaria : डेढ़ महीने बाद भी एरियर्स-डीए से महरूम हैं अध्यापक
डेढ़ महीने बाद भी एरियर्स-डीए से महरूम हैं अध्यापकसांकेतिक चित्र

Umaria : डेढ़ महीने बाद भी एरियर्स-डीए से महरूम हैं अध्यापक

उमरिया, मध्यप्रदेश : अध्यापकों को मिलने वाले एरियर्स सहित डीए में बाबुओं द्वारा पूर्व में ही अपना कमीशन सेट कर दिया जाता है, जिसका कुछ हिस्सा वरिष्ठों तक भी नजराने की तौर पर पहुंचता है।

उमरिया, मध्यप्रदेश। जिला मुख्यालय स्थित कालरी संकुल अंतर्गत जन शिक्षा केन्द्र धमोखर एवं पुराना पिपरिया केन्द्र के अध्यापक संवर्ग का सातवां एरियर्स एवं डीए का भुगतान डेढ़ महीने से अधिक का समय बीत जाने के बाद भी अध्यापकों को नहीं मिल सका है, जबकि भुगतान गत वर्ष नवम्बर माह में हो जाना चाहिए था, भुगतान नहीं होने से सिर्फ कालरी संकुल के आधा सैकड़ा अध्यापक प्रभावित बताए जा रहे हैं। इसके अलावा अमरपुर एवं भरेवा संकुल में भी विभागीय लापरवाही का खामियाजा सेवारत अध्यापक भुगत रहे है, इन्हें भी एरियर्स एवं डीए की दूसरी किश्त जो नवम्बर माह में मिल जानी चाहिए थी, नहीं मिली है।

कब होगा भुगतान :

शासन की गाइड लाइन के अनुसार सातवें वेतन का एरियर्स एवं डीए की द्वितीय किश्त नवम्बर माह एवं तृतीय किश्त मार्च माह तक अध्यापक संवर्ग को हो जाना चाहिए था, लेकिन अब तक द्वितीय किश्त भुगतान ही नहीं हो सका है तो, मार्च में होंने वाले तृतीय किश्त का भुगतान कब और कैसे होगा बड़ा सवाल है। इसके अलावा शिक्षकों के हर माह मिलने वाले वेतन का भी यही हाल है, महीने के 20 तारीख तक उपस्थिति पत्रक संकुल आ जाते है, परन्तु शिक्षकों का वेतन महीने की 10 तारीख तक ही खाते तक पहुंचता है, जबकि महीने के शुरुआती हफ्ते में ही शिक्षकों को वेतन देने शासन का स्पष्ट निर्देश है।

कमीशन का भी है खेल :

अध्यापक संवर्ग का सातवां एरियर्स एवं डीए का भुगतान डेढ़ महीने से अधिक का समय बीत जाने के बाद भी अध्यापकों को नहीं मिल सका है, चर्चा है कि अध्यापकों के एरियर्स, डीए के भुगतान के लिए बाबुओं द्वारा अधिकारियों के नाम पर रिश्वत का खेल-खेला जाता है, अध्यापकों को मिलने वाले एरियर्स सहित डीए में बाबुओं द्वारा पूर्व में ही अपना कमीशन सेट कर दिया जाता है, जिसका कुछ हिस्सा वरिष्ठों तक भी नजराने की तौर पर पहुंचता है, लेकिन उसी कार्यालय में काम करने वाले इसकी शिकायत इसलिए नहीं कर पाते कि बाबुओं पर कार्यवाही होगी नहीं और दोबारा काम पड़ने पर या छोटी गलती में ही शिकायतकर्ता बाबुओं सहित अधिकारियों के कोप का सामना करना पड़ेगा, मामले में कितनी सत्यतता है, यह तो, जांच का विषय है, लेकिन अगर वरिष्ठ चाहे तो, समस्या से निजाद मिल सकती है।

इनका कहना है :

कालरी संकुल से बिल आया था, परन्तु कुछ त्रुटि होने की वजह से वापस कर दिया गया है, त्रुटि सुधार के बाद भुगतान हो जायेगा, भरेवा संकुल से अभी तक बिल नही आया है, जिस वजह से भुगतान नहीं हो पा रहा है।

पुन्नी बाई प्रजापति, बीईओ, मानपुर

अमरपुर संकुल में रिकवरी संबंधी कुछ विवाद है, जिन कारणों से भुगतान में देरी हुई है, जल्द ही समस्याओं का निराकरण कर लिया जायेगा। इसके अलावा एरियर्स एवं डीए के भुगतान में जहां भी देरी हो रही है, जिम्मेदार अधिकारियों से चर्चा कर जल्द निराकरण किया जाएगा और अविलंब भुगतान कराया जाएगा।

उमेश धुर्वे, जिला शिक्षा अधिकारी, उमरिया

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.