रेस्क्यू कर बाघ को डाला पिंजरे में
रेस्क्यू कर बाघ को डाला पिंजरे में|Afsar khan
मध्य प्रदेश

पिछले 1 माह से घूम रहे नर बाघ को टीम ने किया रेस्क्यू

बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व प्रबंधन द्वारा त्वरित कार्यवाही करते हुए रेस्क्यू कर बाघ को डाला पिंजरे में...

Afsar Khan

राज एक्सप्रेस। झिरिया रोपनी में 1 मादा बाघ की 4 संतानों में से एक शावक वर्ष 2018 में कुएं में गिर कर घायल हो गया था, जिसे रेस्क्यू कर मुकुंदपुर ले जाया गया। शेष 3 शावकों में से वयस्क हो रहा उक्त नर बाघ अपनी मां से अलग होकर नई टेरिटरी की तलाश में घूम रहा था। इस क्रम में यह कटनी से 12 कि मी तक सरस्वाही पहुंच गया।

एक की मौत, दो घायल

दुर्घटनावश इसने एक ग्रामीण महिला को मार दिया और 2 व्यक्तियों को घायल कर दिया। इसके पश्चात इसे मानव बस्तियों के आसपास ही प्रायः देखा जाने लगा। मानव बाघ द्वन्द की संभावनाओं के कारण इसे रेस्क्यू करने का निर्णय लिया गया। दिनांक 6 मार्च को मुख्य वन्य प्राणी अभिरक्षक द्वारा इसके रेस्क्यू हेतु पत्र जारी किया गया। बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व प्रबंधन द्वारा त्वरित कार्यवाही करते हुए रेस्क्यू दल गठित किया और 4 हाथियों के साथ अधिकारियों/कर्मचारियों का दल तत्काल सरस्वाही हेतु रवाना किया।

7 मार्च को सुबह से बाघ की सघन तलाश हुई जारी

दोपहर क्षेत्र संचालक बांधवगढ़ विंसेंट रहीम ने स्वयं मौके पर पहुंचकर मोर्चा संभाला। लगभग 4:15 बजे बाघ को ढूंढ लिया गया और तत्काल प्रभारी सहायक वन्य जीव चिकित्सक डॉ अभय सेंगर द्वारा वाइल्डलाइफ कंजर्वेशन ट्रस्ट के पशु चिकित्सक डॉ हिमांशु के साथ हाथी पर जाकर बाघ को सफलतापूर्वक डार्ट किया तथा टीपीएफ की टीम द्वारा बाघ को स्ट्रेचर पर लादकर रेस्क्यू पिंजरे में डाल दिया गया। सम्पूर्ण कार्यवाही डेढ़ घंटे में व्यवस्थित और व्यावसायिक दक्षता के साथ पूर्ण की गई। बाघ को संजय टाइगर रिजर्व हेतु रवाना किया गया। रेस्क्यू किए नर बाघ की आयु लगभग 2-2.5 वर्ष की है एवम् वज़न 130 कि हैं। बाघ पूर्णतः स्वस्थ है। फिलहाल इसे संजय टाइगर रिजर्व में बाड़े में रखा जाएगा एवम् इसके व्यवहार का अध्ययन करने के उपरांत विशेषज्ञों की सलाह से आगे निर्णय लिया जाएगा।

रेस्क्यू कर बाघ को डाला पिंजरे में
रेस्क्यू कर बाघ को डाला पिंजरे में
Afsar khan

यह रहे रेस्क्यू में शामिल

रेस्क्यू की कार्यवाही में क्षेत्र संचालक बांधवगढ़ विंसेंट रहीम के अतिरिक्त उप संचालक सिद्धार्थ गुप्ता, वनमण्डल अधिकारी कटनी राजेश राय, बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के सहायक संचालक अनिल शुक्ला, अंकित पांडे, कटनी के उपवनमंडल अधिकारी बघेल, परिक्षेत्र अधिकारी धमोखर विजय श्रीवास्तव, परिक्षेत्र अधिकारी शैलेन्द्र तिवारी, बाजवा, पशु चिकित्सक, विनय पांडे तथा बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व और कटनी वनमण्डल के कर्मचारी सम्मिलित रहे ।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co