बाघ ने युवक को बनाया शिकार
बाघ ने युवक को बनाया शिकार|Neeraj Singh Raghuvanshi
मध्य प्रदेश

बाघ के हमले से हुई चरवाहे की मौत

उमरिया, मध्यप्रदेश: पार्क प्रबंधक की लापरवाही से वन्यप्राणी कर रहे हैं ग्रामीणों का शिकार, ऐसे ही एक घटना में बाघ ने युवक को बनाया शिकार।

Neeraj Singh

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश के उमरिया जिले करकेली गांव में बांधवगढ़ पार्क प्रबंधन की अनदेखी का मामला सामने आया जहां बाघ ने मवेशी चराने जंगल आए युवक को शिकार बनाया, जिसकी मौत हो गई। इस घटना के बाद से ग्रामीणों में भय का माहौल बना हुआ है।

क्या है पूरा मामला :

जानकारी के मुताबिक, टाइगर रिजर्व क्षेत्र से सटे हुए अकमनिया तेंदुआ क्षेत्र में इन दिनों बाघ का मूवमेंट बना हुआ है, ऐसे ही एक घटना 25 जनवरी को शाम 6 बजे एक युवक को शिकार बनाया, ग्राम पंचायत उचेहरा के ग्राम अकमानिया निवासी मृतक नर्मदा सिंह रोज की तरह मवेशी लेकर जंगल चराने गया हुआ था, शाम के वक्त लौटते समय अचानक बाघ एक बैल को शिकार बनाकर खाने लगा, जिसमें मृतक की नजर पड़ी और वह उस पल को देखने मौके पर पहुंच गया। जिससे बाघ की नजर मृतक के ऊपर पड़ी और उसपर हमला कर दिया, उसे गर्दन में पकड़ कर काफी दूर घसीट कर ले गया। कुछ देर बाद वह वापस मवेशी की तरफ चला गया, लेकिन चरवाहे की मौत हो चुकी थी।

नहीं हो रही ठोस कार्यवाही :

बांधवगढ़ रिजर्व टाइगर क्षेत्र से लगा अकमनिया में अक्सर बांधवगढ़ के वन प्राणियों का मूवमेंट बना रहता है, बांधवगढ़ पार्क प्रबंधन को इस विषय पर जानकारी होते हुए भी वे वन प्राणियों की व्यवस्था बनाने में असफल ही नजर आ रहे हैं, आखिर कैसे वन प्राणी गांव में पहुंच रहे हैं और बांधवगढ़ में बैठे अधिकारियों को इसकी भनक नहीं लग पाती? अभी बीते दिनों बांधवगढ़ पार्क से एक बाघ के गुम होने की खबर प्रकाश में आई थी, लेकिन आज तक उस बाघ का पता नहीं चला।

कई वर्षो से बनी है बाघ की हलचल :

पार्क प्रबंधन का कहना है बांधवगढ़ से सटे ग्रामों के आसपास बाघ की मूवमेंट देखी गई थी, लेकिन यदि पूर्व से देखा जाए तो अकमनिया तेंदुआ क्षेत्र की ओर लगभग कई वर्ष से बाघ का मूवमेंट बना ही रहता है, स्थानीय लोगों में भय का माहौल तो है ही, पार्क प्रबंधक वन प्राणियों के लिए कोई ऐसा ठोस कदम नहीं उठा पा रहा है। जिसका खामियाजा ग्रामीण जनों को उठाना पड़ रहा है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co