ग्वालियर : आज ईव्हीएम से निकलेंगे जिले के तीन विधायक

ग्वालियर, मध्य प्रदेश : मंत्री प्रद्युम्न सिंह, इमरती देवी का होगा भविष्य तय। हार-जीत के अनुमान पर गणना होते ही लग जाएगा विराम।
ग्वालियर : आज ईव्हीएम से निकलेंगे जिले के तीन विधायक
आज ईव्हीएम से निकलेगे जिले के तीन विधायकRaj Express

ग्वालियर, मध्य प्रदेश। उप चुनाव के मतदान के बाद से ही हार-जीत को लेकर अनुमान लगाएं जाने का सिलसिला चालू हो गया था, वह मंगलवार को जैसे ही ईव्हीएम से गणना शुरू होगी वह थम जाएगा। मंगलवार को ईव्हीएम से जिले के तीन विधायक निकलेगे जो भोपाल जा सकेंगे। यह उप चुनाव इसलिए खास है, क्योंकि इसका असर कई नेताओं की भविष्य की राजनीति पर पड़ सकता है। उप चुनाव सिंधिया समर्थक विधायकों के इस्तीफा दिए जाने के बाद हुए हैं जिसके कारण जो परिणाम आएगा उसका असर खास तौर पर सिंधिया पर ही अधिक होगा।

जिले में तीन विधानसभा में उप चुनाव हुआ था जिसकी गणना मंगलवार को सुबह 8 बजे से शुरू हो जाएगी। इसमें मंत्री प्रद्युम्न सिंह एवं इमरती देवी की प्रतिष्ठा भी दांव पर लगी हुई है, क्योंकि 2018 में यह दोनो कांग्रेस उम्मीदवार के तौर पर लम्बे अंतर से जीत दर्ज कर भोपाल पहुंचे थे। इसके अलावा ग्वालियर पूर्व से मुन्नालाल गोयल ने भी विधायकी छोड़ी थी जो इस बार भाजपा से चुनाव लड़ रहे हैं। जिले में ग्वालियर से भाजपा से मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर का मुकाबला कांग्रेस के सुनील शर्मा से था जबकि ग्वालियर पूर्व में भाजपा के मुन्नालाल गोयल के सामने कांग्रेस से सतीश सिकरवार मैदान में थे, जबकि डबरा से मंत्री इमरती देवी के सामने कांग्रेस से सुरेश राजे थे। ग्वालियर पूर्व सीट ही ऐसी है जहां 2018 में भी दोनो प्रत्याशी आमने-सामने थे ओर उप चुनाव में भी आमने-सामने है फर्क सिर्फ यह है कि दोनों इस बार दल बदलकर मैदान में आए हैं।

किसका होगा मंगल और किसका होगा अमंगल :

उप चुनाव को लेकर मंगलवार को ही वोटिंग हुई थी ओर मतगणना भी मंगलवार को हो रही है। इस संयोग को लेकर कुछ लोगो का कहना है कि जो हनुमान भक्त होंगे उनका मंगल होना तय है, लेकिन ईव्हीएम से किसकी किस्मत खुलेगी यह तो मंगलवार को ही पता चल सकेगा। दोनों ही दलों के प्रत्याशियों की धड़कनें सोमवार को तेज रही, क्योंकि सुबह होते ही उनको यह पता चल जाएगा कि क्षेत्र के लोगों ने उनको कि तना आशीर्वाद दिया है। जहां तक मंत्री प्रद्युम्न सिंह की बात करें तो उन्होने कांग्रेस सरकार में भी मंत्री रहते अपने क्षेत्र के लोगों के साथ संपर्क नहीं छोड़ा था ओर नाले से लेकर नालियां भी स्वयं साफ करने का काम किया था अब मंत्री द्वारा नाले नालिया साफ करना ग्वालियर विधानसभा के लोगों को पंसद आया कि नहीं इसका खुलासा मंगलवार को दोपहर तक हो जाएगा। वहीं डबरा में इमरती देवी कांग्रेस से 2018 में 58 हजार से अधिक वोटों से जीती थी जिसके कारण वह भी अपनी जीत पक्की मान कर चल रही है, लेकिन कांग्रेस खेमे का कहना है कि डबरा हमेशा से कांग्रेस को जिताती रही है इस कारण उप चुनाव में भी कांग्रेस को लम्बी जीत मिलने जा रही है। अब आंकड़े लगाने का काम मंगलवार सुबह 8 बजे के बाद समाप्त हो जाएगा ओर किसकी किस्मत उप चुनाव में चमकती है इसका फैसला भी हो जाएगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co