Raj Express
www.rajexpress.co
माखनलाल में छात्रों के निष्कासन को लेकर सदन से सड़क तक हंगामा
माखनलाल में छात्रों के निष्कासन को लेकर सदन से सड़क तक हंगामा |Rishabh Jat-RE
मध्य प्रदेश

माखनलाल में छात्रों के निष्कासन को लेकर सदन से सड़क तक हंगामा

माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय में छात्रों के निष्कासन के विरोध में राजधानी समेत देश के पत्रकार, पूर्व छात्र समेत अन्य समाजसेवी दल भी छात्रों के समर्थन में उनके साथ आ गए हैं।

Rishabh Jat

राज एक्सप्रेस। माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय भोपाल में छात्रों के निष्कासन के मुद्दे को लेकर बुधवार को सड़क से लेकर सदन तक जमकर हंगामा हुआ। दो एडजंक्ट प्रोफेसरों के खिलाफ प्रदर्शन करने वाले छात्रों के निष्कासन का मुद्दा बुधवार को विधानसभा में गूंजा। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने प्रश्नकाल के फौरन बाद सदन में एमसीयू के मामले को जोरशोर से उठाया। दोनों ही नेताओं ने छात्रों के उपर हुई एफआईआर को वापस लेने और छात्रों का निष्कासन तुरंत रद्द करने की मांग को लेकर सरकार को घेरा।

विधानसभा में विपक्ष के कई और विधायकों ने अपने स्थान पर खड़े होकर छात्रों पर हुई कार्रवाई की निंदा की। नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने छात्रों के निष्कासन का मुद्दा उठाते हुए कहा कि, सदन में इस पर चर्चा की मांग की गयी है। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि, छात्रों पर लाठीचार्ज करना और उन पर एफआईआर कर जेल भेजना बहुत ही आपत्तिजनक है। नेता प्रतिपक्ष ने छात्रों की शिकायत पर कार्रवाई न करके विरोध करने वाले छात्रों को बाहर का रास्ता दिखा दिया यह पूरी तरह गलत है। इस दौरान विपक्ष ने आरोप लगाया कि, छात्रों के साथ आतंकी जैसा व्यवहार किया जा रहा है।

विपक्ष के सवालों का जवाब देते हुए संसदीय कार्यमंत्री गोविंद सिंह ने कहा कि छात्रों के प्रति हमारी संवेदना है और उनको पूरा संरक्षण भी है। उन्होंने कहा कि मामले की पूरी जानकारी मंगायी जा रही है और जल्द ही इस पूरे मामले का हल निकाला जाएगा।

दूसरी तरफ छात्रों के निष्कासन के विरोध में बुधवार को दिन भर विश्वविद्यालय कैंपस में गहमागहमी देखने को मिली। छात्रों के निष्कासन के विरोध में पूर्व छात्रों और पत्रकारों का एक दल विश्वविद्यालय पहुंचा, जिसने प्रबंधन और निष्कासित किए गए छात्रों से अलग अलग चर्चा की। पत्रकारों ने छात्रों के निष्कासन पर विरोध जताते हुए यूनिवर्सिटी गेट पर शांति पूर्ण प्रदर्शन करते हुए उनके निष्कासन को रद्द करने और एफआईआर वापस लेने की मांग की। पत्रकारों के दल ने आंदोलन कर रहे छात्रों से समझाते हुए उन्हें राजनीतिक पचड़े से दूर रहने की सलाह दी।

उपराष्ट्रपति तक पहुंचा माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय का मामला

माखनलाल यूनिवर्सिटी की पूरा मामला अब दिल्ली भी पहुंच गया है। भाजपा सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने इस मुद्दें को लेकर उपराष्ट्रपति वैंकेया नायूड से मुलाकात की। साध्वी प्रज्ञा ने माखनलाल यूनिवर्सिटी के मुद्दें पर उपराष्ट्रपति को एक पत्र देकर पूरे मामले में संज्ञान लेने की बात कही।

सभी छात्रों का निष्कासन रद्द करने की मांग को लेकर ABVP कार्यकर्ता द्वारा विश्वविद्यालय के गेट के सामने धरना देकर विरोध जताया गया।

 ABVP कार्यकर्ता द्वारा विश्वविद्यालय के गेट के सामने धरना देकर विरोध जतया गया।
ABVP कार्यकर्ता द्वारा विश्वविद्यालय के गेट के सामने धरना देकर विरोध जतया गया।
Rishabh Jat-RE

शिक्षा का मंदिर अब राजनीति का अखाड़ा बन गया है। क्या किसी भी शिक्षक को बच्चों के बीच जातिवाद का ज़हर घोलने का अधिकार है? प्रोफेसर की जाँच पड़ताल के लिए यूनिवर्सिटी द्वारा कमेटी का गठन किया गया हैं। छात्रों के खिलाफ की गयी FIR अभी तक वापस नहीं ली गयी है। यूनिवर्सिटी में सेमेस्टर परीक्षा शुरू होने में कुछ ही दिन बाकि हैं ,इसी बीच छात्रों के साथ विश्वविद्यालय प्रशासन का रवैया छात्रों के परीक्षा रिजल्ट पर भी प्रभाव डाल सकता है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।