क्रांतिकारियों को आतंकवादी बताने पर भड़के छात्र
क्रांतिकारियों को आतंकवादी बताने पर भड़के छात्र|Social Media
मध्य प्रदेश

क्रांतिकारियों को आतंकवादी बताने पर भड़के छात्र, मामला VC के पास

गुना/ ग्वालियर : परीक्षा के दौरान प्रश्नपत्र में पूछे गए प्रश्न पर छात्रों ने उठाई आपत्ति, कॉलेज प्रबंधन ने विश्वविद्यालय के कुलपति को कराया समस्या से अवगत।

Deepika Pal

Deepika Pal

राज एक्सप्रेस। एक ओर जहां CAA को लेकर देशभर में विरोध प्रदर्शन लगातार जारी है वहीं दूसरी ओर नए-नए मामले सामने आ रहे हैं। इसके चलते ही प्रदेश के गुना जिले के एक सरकारी कॉलेज में एमए राजनीति शास्त्र की परीक्षा के दौरान प्रश्नपत्र में पूछे गए प्रश्न पर आपत्ति जताते हुए कॉलेज प्रबंधन पर सवाल उठाए हैं। दरअसल प्रश्नपत्र में देश के क्रांतिकारियों को आतंकवादी बताते हुए उनमें और उग्रवादियों में अंतर पूछा गया था। जिस मामले पर छात्र संगठन डेमोक्रेटिक स्टूडेंट ऑर्गनाइजेशन (डीएसओ) ने कॉलेज प्रबंधन के समक्ष कड़ी आपत्ति जाहिर की है।

क्या है मामला :

जानकारी के मुताबिक, यह मामला गुना जिले के एक सरकारी कॉलेज का है और कॉलेज ग्वालियर के जीवाजी विश्वविद्यालय से संबद्ध है। इसके चलते ही विश्वविद्यालय द्वारा 20 दिसंबर को राजनीति शास्त्र की परीक्षा कराने के दौरान प्रश्नपत्र में पूछे गए विवादित सवाल पर छात्रों ने आपत्ति जताते हुए विरोध किया। इस मामले पर छात्रों और छात्र संगठन डेमोक्रेटिक स्टूडेंट ऑर्गनाइजेशन (डीएसओ) ने सवाल खड़े किए है।

सरकार के दृष्टिकोण पर उठाए सवाल :

इस मामले में छात्र संगठन के अध्यक्ष सुनील सेन ने आपत्ति जताते हुए कहा कि, यह सरकार का दृष्टिकोण है, कि हम पाठ्यक्रम में हमारे देश के क्रांतिकारियों और शहीदों की वीरगाथाओं, बलिदानों को पढ़ाए जाने और शामिल करने की मांग करते है लेकिन यहां सब उल्टा हो रहा है भगत सिंह, चंद्रशेखर आजाद जैसे क्रांतिकारियों को आतंकवादी बताया जिससे हमारे वीर शहीदों का अपमान होता है।

विश्वविद्यालय के कुलपति को कराया अवगत :

इस संबंध में कॉलेज प्रबंधन और प्रिंसिपल वीके तिवारी ने कहा कि, विश्वविद्यालय के कुलपति को इस मामले से अवगत कराया गया है, दरअसल प्रश्नपत्र विश्वविद्यालय के द्वारा ही तैयार होकर आता है इसमें कॉलेज की कोई भूमिका नहीं होती है।

पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज ने दु:ख जताते हुए की जांच की मांग :

इस मामले पर पुर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दु:ख जाहिर करते और आपत्ति उठाते हुए कहा कि, इस मामले में गैरजिम्मेदार लोगों पर तत्काल कार्रवाई की जाए।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co