अफवाहों से बचे किसान भाई
अफवाहों से बचे किसान भाई|Shashikant kushwaha
मध्य प्रदेश

यूरिया की प्रदेश में पर्याप्त उपलब्धता है, घबराएं नहीं किसान भाई

सिंगरौली, मध्यप्रदेश : यू तो किसान हमेशा से उपेक्षा का शिकार होता आया है, साथ ही वर्तमान में देश के किसानों की हालत किसी से छुपी नही है।

Shashikant Kushwaha

राज एक्सप्रेस। यूं तो किसान हमेशा से उपेक्षा का शिकार होता आया है, साथ ही वर्तमान में देश के किसानों की हालत किसी से छुपी नही है। ऐसे में मध्यप्रदेश की औद्योगिक नगरी सिंगरौली में किसानों के लिए कृषि विभाग की गंभीरता देखते ही बनती है।

जिले में खाद की स्थिति

सिंगरौली जिले के वर्तमान में यूरिया की आपूर्ति निरंतर हो रही है, रबी 2019-20 हेतु अभी तक 1679 मैट्रिक टन के विरूद्ध अभी तक सहकारिता में 1387 एवं निजी विक्रेताओं के यहां 292 मैट्रिक टन इस प्रकार कुल 1679 मैट्रिक टन यूरिया का भण्डारण होकर 1544 मैट्रिक टन वितरण किया जा चुका है।

कृषि विभाग के उप संचालक ने की अपील

उप संचालक किसान कल्याण तथा कृषि विभाग ने किसान भाइयों से अपील की है कि, घबराहट में अनावश्यक रूप से यूरिया का भण्डारण नही करें गेहू के लिये प्रथम ट्राप ड्रेसिंग के लिये लगने वाला आधा यूरिया ही क्रय करें तथा शेष द्वितीय ट्राप ड्रेसिंग के लिये आगामी 15 दिवस के पश्चात क्रय करें।

जिले में है पर्याप्त संसाधन

उप संचालक श्री आशीष पाण्डेय ने बताया कि, यूरिया की सुलभ व्यवस्था के लिये प्रत्येक सहकारी समिति एवं निजी विक्रेताओं के यहां वितरण हेतु ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारियों की ड्यूटी भी लगायी जा चुकी है। यदि कृषक सेवा सहकारी समिति अथवा निजी विक्रेताओं या मार्कफेड कहीं भी खाद लेने जाते हैं तो साथ में अपना आधार कार्ड एवं भूमि का दस्तावेज साथ लेकर जायें।

शासन द्वारा यूरिया, डी.ए.पी. की विक्री पी.ओ.एस. मशीन द्वारा किया जाना निर्धारित किया जाना है। किसी भी स्थिति में बगैर पी.ओ.एस. मशीन के यूरिया, डी.ए.पी. नही दी जानी है। अतः असुविधा से बचने के लिये आधार कार्ड एवं जमीनी कागजात भी साथ में रखे एवं दुकानदार या समिति पर मांगे जाने पर अवश्य दिखायें। साथ ही विक्रेता बधुओं से अपील है कि, शासन द्वारा दिये गये निर्देशों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करें।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co