Raj Express
www.rajexpress.co
अपराधी को मृत्युदंड
अपराधी को मृत्युदंड|Social Media
मध्य प्रदेश

विदिशा: पहली बार किसी अपराधी को मृत्युदंड

विदिशा, मध्य प्रदेश : 7 साल की मासूम बच्ची से दुष्कर्म कर उसकी हत्या करने वाले को न्यायालय ने मृत्युदंड दिया गया है। इस घटना पर कोर्ट का बहुप्रतीक्षित फैसला आया है।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

राज एक्सप्रेस। सात साल की मासूम बच्ची से दुष्कर्म कर उसकी हत्या करने वाले को न्यायालय ने फांसी की सजा सुनाई है। क्षेत्र में मानवता को शर्मसार कर देने वाली इस घटना पर कोर्ट का बहुप्रतीक्षित फैसला आया है। इसकी लोगों ने मुक्त कंठ से सराहना की है। सोमवार को द्वितीय अपर सत्र न्यायाधीश (पॉक्सो) प्रतिष्ठा अवस्थी ने आरोपित रवि मालवीय उर्फ टोली को दोषी पाते हुए इस अपराध को जघन्य से भी जघन्य बताया और फांसी की सजा सुनाई। पॉक्सो और हत्या के इस मामले में विदिशा जिले में पहली बार किसी अपराधी को मृत्युदंड दिया गया है।

चार वर्ष पूर्व बच्ची से दुष्कर्म कर गला घोंटकर फेंका था कुएं में

आरोपी से जब पूछताछ की तो रवि मालवीय ने पुलिस को बताया कि भोपाल रेलवे स्टेशन प्लेटफार्म नंबर 6 के बाहर रहने वाली महिला ट्रेन में गुटखा-पाउच बेचती थी उसके साथ 2 साल से संबंध थे और घटना दिनांक को भी उसी से मिलने गया था। कुसुम घर पर नहीं मिली लेकिन उसकी 7 साल की मासूम बेटी घर पर थी जिसे लेकर वह ट्रेन से विदिशा आ गया और फिर अहमदपुर कलारी पर शराब पीने के बाद वहीं सामने सूने खेत पर मासूम बालिका के साथ दुष्कर्म किया और जब वह चिल्लाने लगी तो मुंह और गला दबाकर उसकी हत्या करके लाश कुएं में फेंक दी।