Raj Express
www.rajexpress.co
ग्रामवासियो को नहीं मिल रहा स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ
ग्रामवासियो को नहीं मिल रहा स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ|Harish Ragangdala
मध्य प्रदेश

बालाघाट: ग्रामवासियों को नहीं मिल रहा स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ

बालाघाट, मध्य प्रदेश: बालाघाट के खैरलांजी जनपद क्षेत्र अंतर्गत ग्राम पंचायत पुलपुट्टा में ग्रामवासियों को स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ नहीं मिल रहा है, जिससे ग्रामीण जनता में भारी आक्रोश है।

Harish Rahangdale

हाइलाइट्स:

  • खैरलांजी जनपद क्षेत्र अंतर्गत ग्राम पंचायत पुलपुट्टा में ग्रामवासियों को स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ नहीं मिल रहा है

  • 3 वर्ष पहले ग्राम पुलपुट्टा में उप स्वास्थ्य केंद्र का निर्माण हुआ था

  • 30 से 40 किलोमीटर जाकर इलाज करवाना पड़ रहा है

  • ग्रामीण जनता में पनप रहा है भारी आक्रोश

  • ग्रामीण जनता द्वारा अनेक बार दिये गए आवेदन

  • करेंगे सड़क पर उतरकर विरोध प्रदर्शन

राज एक्सप्रेस। वर्तमान में प्रदेश सरकार के द्वारा विभिन्न प्रकार की स्वास्थ्य सेवाओं पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है, जिसमें विभिन्न प्रकार की निःशुल्क दवाइयां और इलाज मुहैया कराया जा रहा है। लेकिन आज भी ऐसे कई क्षेत्र हैं, जहां की आम जनता को स्वास्थ्य सेवाओं के लाभ से वंचित रहना पड़ रहा है, उक्त मामला खैरलांजी जनपद क्षेत्र अंतर्गत ग्राम पंचायत पुलपुट्टा का है। जहां स्वास्थ्य व्यवस्था बदहाल स्थिती में पहुंच गई है।

30 से 40 किलोमीटर जाकर इलाज करवाना पड़ रहा है:

आलम यह है कि, जहां एक ओर स्वास्थ्य व्यवस्था पर प्रदेश सरकार विशेष ध्यान दे रही है, वहीं बालाघाट जिले में आज भी ग्रामीण क्षेत्रों में सरकारी अस्पतालों के ताले तक नहीं खुलते हैं। ऐसे में वे मरीज जो मौसमी बिमारियों से ग्रसित हैं, उन लोगों के लिए आफत सी हो गई है। जिन्हें 30 से 40 किलोमीटर दूर जाकर इलाज करवाना पड़ रहा है।

जनता में भारी आक्रोश :

इस मामले में दीपक पुष्पतोड़े ने जानकारी देते हुये बताया कि, आज से तकरीबन 3 वर्ष पहले 36 लाख रुपये की लागत से ग्राम पुलपुट्टा मे उप स्वास्थ्य केंद्र का निर्माण हुआ है, लेकिन देख-रेख व स्वास्थ्य अधिकारी नही होने के कारण खंडहर में तब्दील होने की कगार पर है। उप स्वास्थ्य केंद्र और इसकी बदहाली यहां देखते ही बनती है। उप-स्वास्थ्य केंद्र के निर्माण होने के बाद स्वास्थ्य विभाग द्वारा वहां पर नर्स की नियुक्ति की गयी थी, लेकिन कुछ कारणवश उसका तबादला हो गया। तब से आज दिनांक तक तकरीबन 1 वर्ष बीत जाने के पश्चात भी विभाग द्वारा नर्स (एएनम) की नियुक्ति नहीं की गई है। जिसके कारण ग्रामीण जनता को स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है एवं ग्रामीण जनता में भारी आक्रोश पनप रहा है।

कई बार दिये आवेदन:

ज्ञात हो कि, इसके पूर्व में भी ग्रामीण जनता द्वारा अनेक बार उच्चस्तर के जनप्रतिनिधियों एवं प्रशासनिक अधिकारियों को ज्ञापन और आवेदन के माध्यम से इस समस्या के संबंध में अवगत कराया गया, लेकिन आज दिनांक तक शासन-प्रशासन द्वारा किसी प्रकार की सुध नहीं ली गई।

अब करेंगे सड़क पर उतरकर विरोध प्रदर्शन :

ग्राम पुलपुट्टा के समस्त ग्रामवासीयों द्वारा मांग की गई है कि, शीघ्र उप स्वास्थ्य केंद्र में नर्स की नियुक्ती की जाये, वरना इसके विरोध में समस्त ग्रामीण जनता सड़क पर उतर कर विरोध प्रदर्शन करेंगे जिसकी जवाबदारी जनप्रतिनिधियों एवं प्रशासनिक अधिकारियों की होगी।