आखिर सच्चाई क्यों स्वीकार नहीं कर रही सरकार : कमलनाथ
आखिर सच्चाई क्यों स्वीकार नहीं कर रही सरकार : कमलनाथSyed Dabeer Hussain - RE

आखिर सच्चाई क्यों स्वीकार नहीं कर रही सरकार : कमलनाथ

कोरोना काल में कई लोगों की मौत आक्सीजन की कमी से हुई है, लेकिन प्रदेश की शिवराज सरकार एक भी मौत न होने की बात कहकर बेशर्मी से झूठ बोल रही है यह बात प्रदेश कांगेस के अध्यक्ष कमलनाथ ने कही है।

भोपाल, मध्यप्रदेश। कोरोना काल में कई लोगों की मौत आक्सीजन की कमी से हुई है, लेकिन प्रदेश की शिवराज सरकार एक भी मौत न होने की बात कहकर बेशर्मी से झूठ बोल रही है यह बात प्रदेश कांगेस के अध्यक्ष कमलनाथ ने कही है।

नाथ ने कहा कि कोरोना की इस दूसरी लहर में प्रदेश के भोपाल, इंदौर, जबलपुर, ग्वालियर, उज्जैन, सागर, खंडवा, शहडोल,मूरैना, छतरपुर सहित कई जिलो में बड़ी संख्या में लोगों को आक्सीजन के अभाव में खुली आंखों से दम तोड़ते देखा है, आक्सीजन के सिलेंडर लिए दर-दर भटकते देखा है, आक्सीजन की कमी से अस्पतालों में हाहाकर मचते देखा है, आक्सीजन का रात-दिन जगाकर इंतजार करते देखा है, कई जिलों में अस्पतालों ने आक्सीजन की कमी के बोर्ड लगाकर मरीजों को भर्ती करने से तक से मना कर दिया था, अस्पताल में भर्ती मरीजों से लिखवा लिया गया था कि ऑक्सीजन की कमी से होने वाली जनहानि के लिए वो ही जिम्मेदार होंगे, आक्सीजन की कमी से भर्ती मरीजों की छुट्टी तक कर दी गई थी, आक्सीजन के लिए लोगों की लंबी-लंबी कतारें हम सभी ने देखी है, हमने खुद कई जिलों के लिए आक्सीजन की व्यवस्था की है, सरकार खुद इन मौतों के बाद जागी और प्रदेश भर के अस्पतालों में आक्सीजन संयंत्र लगाने की घोषणाएं की गईं, जो कि आज दो माह भी अधूरे हैं, और आज शिवराज सरकार बड़ी ही बेशर्मी से कह रही है कि आक्सीजन की कमी से प्रदेश में कोई मौत नहीं हुई, प्रदेश में आक्सीजन की कोई कमी ही नहीं थी, यह तो पीडि़त परिवारों के साथ मजाक है। उस समय तो कहते थे कि हम रात-दिन जागकर आक्सीजन की व्यवस्था में लगे रहे, आखिर सरकार सच्चाई से क्यों भाग रही है, क्यों नहीं स्वीकार रही है कि उसके कुप्रबंधन से, आक्सीजन की कमी से बड़ी संख्या में लोगों की जाने गई यह तो झूठ की इंतेहा है।

कमलनाथ ने कहा कि, जब मैंने कोरोना से हुई मौतों के वास्तविक आंकड़े जारी किए, सरकार के झूठ की पोल खोली तो मेरे खिलाफ एफआईआर तक दर्ज करवा दी, सरकार भले मुझ पर और एफआईआर दर्ज करवा दे लेकिन आज मैं दावे के साथ कह रहा हूं कि मध्यप्रदेश के कई जिलों में ऑक्सीजन के अभाव से सेकड़ों लोगों की जान गईं हैं, कई मौतें तो रिकॉर्ड तक में नहीं आ पाई, हर पीड़ित परिवार ने ऑक्सीजन के इस भीषण संकट को भुगता है। यह सच है कि जिन लोगों ने अपनों को खोया है वो इस झूठी, निष्ठुर सरकार को कभी माफ नहीं करेंगे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co