गर्भवती महिलाओं और उनके होने वाले बच्चों को देंगे सुरक्षा कवच : शिवराज सिंह
गर्भवती महिलाओं और उनके होने वाले बच्चों को देंगे सुरक्षा कवचSocial Media

गर्भवती महिलाओं और उनके होने वाले बच्चों को देंगे सुरक्षा कवच : शिवराज सिंह

भोपाल, मध्यप्रदेश : गर्भवती महिलाओं को कोरोना संक्रमण से बचाने और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए राज्य स्तरीय टीकाकरण का कार्य प्रांरभ किया जा रहा है।

हाइलाइट्स :

  • मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा, कोरोना से बचाव में टीका कारगर

  • प्रदेश में कल से होगी कोविड टीकाकरण सत्र की शुरुआत

भोपाल, मध्यप्रदेश। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कोविड-19 का टीका कोरोना से बचाव का काफी प्रभावशाली एवं कारगर उपाय है। प्रदेश में अभी तक ढाई करोड़ से अधिक लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। टीकाकरण अभियान के चलते हमने यह निर्णय लिया है कि अब गर्भवती महिलाओं और उनके बच्चे को वैक्सीन का सुरक्षा कवच प्रदान किया जाए। इसके लिये 23 जुलाई से कोविड-19 टीकाकरण सत्र की शुरूआत प्रदेश में होगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ट्वीट कर जानकारी दी कि कोविड-19 टीकाकरण गर्भवती महिलाओं और उनके होने वाले बच्चे के लिए सुरक्षा का मजबूत कवच है। गर्भवती महिलाओं को कोरोना संक्रमण से बचाने और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए राज्य स्तरीय टीकाकरण का कार्य प्रांरभ किया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने 23 जुलाई से शुरू हो रहे इस विशेष अभियान में सभी वर्गों से आह्वान किया है कि जिस तरह पूर्व में टीकाकरण के लिए लोगों ने उत्साह दिखाया था, उसी तरह गर्भवती महिलाओं को सुरक्षा कवच देने के लिए सक्रिय भूमिका निभाएं, जिससे शत-प्रतिशत लक्ष्य समय पर प्राप्त किया जा सके।

टीकाकरण केंद्रों पर अतिरिक्त कक्ष की व्यवस्था :

प्रदेश में 23 जुलाई से शुरू हो रहे गर्भवती माताओं को कोविड-19 टीकाकरण विशेष अभियान सभी शासकीय मेडिकल कॉलेज, समस्त जिला चिकित्सालय, सिविल अस्पताल और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर वैक्सीन लगाई जाएगी। गर्भवती महिलाओं के लिये टीकाकरण केंद्रों पर अतिरिक्त टीकाकरण कक्ष, निगरानी कक्ष, प्रतीक्षा कक्ष, मेडिकल ऑफिसर द्वारा पर्यवेक्षण की व्यवस्था रहेगी। सभी केंद्रों पर भारत सरकार द्वारा गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण के लिए जारी गाइडलाइन का पालन भी किया जाएगा।

तीसरी लहर के प्रभाव को कम करना होगा :

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना की संभावित तीसरी लहर को हरसंभव प्रयास कर निष्क्रिय करना होगा। इसके लिये राज्य सरकार ने अग्रिम रूप से सभी व्यवस्थाएँ सुनिश्चित कर ली हैं। आगामी दिनों में प्रदेश में पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित कर ली जाएगी। अस्पतालों में बेड्स की भी बड़े स्तर पर व्यवस्थाएं की जा चुकी हैं। चिकित्सकीय अधोसंरचना निर्माण के साथ जरूरी मेन पावर की पूर्ति करने के लिए भर्तियां की जा रही हैं। मुख्यमंत्री ने सभी प्रभारी मंत्रियों को अपने-अपने प्रभार के जिलों में अस्पतालों में की जा रही तैयारियों पर सतत निगरानी करने के निर्देश दिए हैं।

प्रदेश की पॉजीटिविटी दर 0.01 प्रतिशत :

मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश में अभी कोरोना काफी हद तक नियंत्रित है। लेकिन हमे निश्चिंत नहीं होना है। कोराना की गाइडलाइन का पालन करते हुए अनुकूल व्यवहार को भी अपनाना होगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि आज प्रदेश में कुल 15 कोरोना के पॉजिटिव प्रकरण आये हैं और 20 रोगी स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए हैं। पॉजिटिविटी दर भी कम होकर 0.01 प्रतिशत रह गई है। प्रदेश में आज 76 हजार 879 कोरोना टेस्ट किए गए।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co