Raj Express
www.rajexpress.co
महिला को दहेज के लिए प्रताड़ित
महिला को दहेज के लिए प्रताड़ित|Syed Dabeer Hussain - RE
मध्य प्रदेश

छिंदवाड़ा: महिला को ससुराल वालों ने जलाया, पुलिस की कार्यप्रणाली पर उठे सवाल

परासिया, छिंदवाड़ा: परासिया अनुविभाग के चावड़ीकला थाना उमरेठ की एक विवाहिता को दहेज के लिए प्रताड़ित करने और मांग पूरी न होने पर 5 सितंंबर को आग के हवाले करने का मामला।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्‍सप्रेस। दहेज की लिए फिर एक विवाहिता को जलाने और बाद में मौत हो जाने का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है। परासिया अनुविभाग के चावड़ीकला थाना उमरेठ की एक विवाहिता सोनिया पवार को दहेज के लिए प्रताड़ित करने और मांग पूरी न होने पर 5 सितंंबर को आग के हवाले कर दिया, जिस में सोनिया बुरी तरह झुलस गई, जिसे इलाज के लिये अस्पताल ले जाया गया और बाद में नागपुर रेफर किया गया।

सोनिया की मृत्यु में 13 दिन बाद FIR दर्ज :

जहां पर उनसे 16 सितंंबर को आखरी सांस सोनिया के परिजनों की शिकायत के बाद परासिया पुलिस ने सोनिया की मृत्यु में 13 दिन बाद एफआईआर दर्ज की, जिसमें पति रामेश्वर पवार, नंद रमशीला पवार, सास रामप्यारी पवार के खिलाफ 29 सितंंबर को आईपीसी की धारा 498ए, 304बी, 34 के तहत कार्यवाही कर पति और सास को गिरफ्तार कर लिया, परंतु मृतिका की नंद रमशीला पवार जो कि, पटवारी है, पुलिस उसे आज त‍क गिरफ्तार नही कर पाई है। मृतिका के परिजनों और समाजसेवी जितिका विश्वकर्मा ने परासिया एसडीओपी अरविंद ठाकुर पर मामले में आरोपियों की मदद करने और मृतिका के परिजनों को प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है।

पुलिस की कार्यप्रणाली पर उठे सवाल :

इस पूरे मामले में परासिया पुलिस भी संदेह के घेरे में है, जब सोनिया को जलाया गया तो उस की एफआईआर उमरेठ थाने में नहींं लिखी गई, उसके बाद सोनिया के परिजन एसडीओपी के पास घटना की जानकारी देने से पहले उस पर एसडीओपी अरविंद ठाकुर ने जांच का भरोसा दिया। इस बीच 16 सितम्बर को सोनिया की मृत्यु नागपुर में हो हुई, जिसके बाद मृतिका के परिजनों को एफआईआर करवाने के लिए 13 दिन भटकना पड़ा।

नंद की गिरफ्तारी कब :

मृतिका के परिजनों से मिली जानकारी के अनुसार, इस पूरे मामले में मृतिका की नंद रमशीला पवार, जो मोरडोंगरी में पटवारी के पद पदस्त है कि, मुख्य भूमिका है वो ही हमेशा मृतिका को परेशान करते हुये, मृतिका के पति को दहेज के लिए उकसाती रहती थी, जो अभी तक फरार है, जिसकी गिरफ्तारी की मांग परिजनों ने एसपी से की है।