Raj Express
www.rajexpress.co
आदिवासी महिला को चलती ट्रेन में हुआ प्रसव
आदिवासी महिला को चलती ट्रेन में हुआ प्रसव|Parvez Aziz
मध्य प्रदेश

आदिवासी महिला को चलती ट्रेन में हुआ प्रसव

नागदा : रेलवे ट्रेक पर दौड़ती ट्रेन में आदिवासी महिला ने बेटी को जन्म दिया, जीआरपी पुलिस ने अस्पताल में भर्ती कराया

Parvez Aziz

राज एक्सप्रेस। रेलवे ट्रेक पर दौड़ती सुपर फास्ट ट्रेन के शौचालय में शुक्रवार की शाम को एक आदिवासी महिला ने बेटी को जन्म दिया। ट्रेन के नागदा प्लेटफार्म पर पहुंचते ही जीआरपी ने एक निजी कंपनी की महिला सफाईकर्मियों की मदद से प्रसूता को सरकारी अस्पताल पहुंचाया। अस्पताल में महिला चिकित्सक डॉ. जोशी ने अडेंट किया, जहां उन्होंने दोनों को स्वस्थ्य बताया। 

झाबुआ जिले के अंतर्गत आने वाले गांव पंच पिपल्या निवासी आदिवासी महिला पुष्पा पति सूरज उम्र 23 वर्ष मजदूरी के लिए राजस्थान गई थी। एर्नाकुलम् एक्सप्रेस से शुक्रवार को अपने गृहनगर लौट रही थी कि आलौट स्टेशन पर उसको प्रसव पीड़ा हुई, इसी दौरान ट्रेन ने प्लेटफार्म छोड़ दिया। प्रसूता दर्द के कारण तड़पती रही, लेकिन प्राथमिक उपचार तक नहीं मिला। रेलवे ट्रेक पर तेजगति से दौड़ती ट्रेन में महिला ने बेटी को जन्म दिया। ट्रेन में सवार यात्रियों ने जीआरपी नागदा को सूचना दी, जिससे जीआरपी हरकत में आ गई। जीआरपी चौकी प्रभारी रामप्रसाद नागर के अनुसार ट्रेन के नागदा प्लेटफार्म पर पहुंचते ही महिला आरक्षक पूजा नरवरिया एवं आरक्षक मनोज सिंह ने एक निजी कंपनी की महिला सफाईकर्मियों की मदद से उसको सरकारी अस्पताल पहुंचाया।