कर्फ्यू के दौरान औद्योगिक गतिविधियां चालू रहने से मिली श्रमिकों को मदद
कोरोना कर्फ्यू के दौरान औदयोगिक गतिविधियां चालू रहने से मिली श्रमिकों को मददSyed Dabeer-RE

कर्फ्यू के दौरान औद्योगिक गतिविधियां चालू रहने से मिली श्रमिकों को मदद

इंदौर। प्रदेश शासन के आदेशानुसार मालवा-निमाड़ के इंदौर, रतलाम, उज्जैन, समेत विभिन्न जिलों में कोरोना कर्फ्यू के दौरान भी औद्योगिक गतिविधियां निर्बाध रूप से जारी रही।

इंदौर। प्रदेश शासन के आदेशानुसार मालवा-निमाड़ के इंदौर, रतलाम, उज्जैन, समेत विभिन्न जिलों में कोरोना कर्फ्यू के दौरान भी औद्योगिक गतिविधियां निर्बाध रूप से जारी रहीं। फलस्वरूप मजदूरों को रोजगार मिला, उत्पादन होने से व्यापारिक गतिविधियां संचालित होती रहीं। औद्योगिक इकाइयों के लिए बिजली कंपनी ने भी गुणवत्तापूर्ण बिजली वितरित की।

पश्चिम मप्र में 20 औदयोगित इकाइयां है। इलाके में सबसे ज्यादा इंदौर, उज्जैन, पीथमपुर, देवास और रतलाम में है। कोरोना काल के दौरान अप्रैल और मई में हर जिले में भी उत्पादन जारी रहा, उत्पादित माल बाहर भेजा जाता रहा। इससे श्रमिक वर्ग को रोजगार में दिक्कत नहीं आई। उपभोक्ताओं को ही प्रशासन के आदेशानुसार कभी दुकानों से तो कभी होम डिलिवरी के माध्यम से जरूरी सामान मिलता रहा।

बिजली कंपनी की माने तो मालवा और निमाड़ में लगभग 600 मैगावाट बिजली अप्रैल और मई के दौरान अब तक रोज लगती रही है। यह बिजली वर्ष 2020 की तुलना में ज्यादा है, क्यों कि पिछले वर्ष औद्योगिक इकाइयों को अनुमति नहीं थी। जबकि वर्ष 2019 की तुलना में लगभग बराबर है। औद्योगिक इकाइयों में सबसे ज्यादा उत्पादन जनवरी-फरवरी को होता है, इस वक्त पानी की भी कोई कमी नही होती है, दिन अपेक्षाकृत बड़े होते हैं, भीषण गर्मी की स्थिति नहीं होती है।

पिछले तीन साल का बिजली उपयोग तुलनात्मक

  • फरवरी 19 619 मैगावाट

  • फरवरी 20 671 मैगावाट

  • फरवरी 21 679 मैगावाट

  • मार्च 19 570 मैगावाट

  • मार्च 20 472 मैगावाट

  • मार्च 21 611 मैगावाट

  • अप्रैल 19 594 मैगावाट

  • अप्रैल 20 294 मैगावाट

  • अप्रैल 21 587 मैगावाट

इनका कहना है.....

मालवा और निमाड़ के सभी जिलों के इंजीनियरों को औद्योगिक इकाइयों को गुणवत्तापूर्ण बिजली देने के निर्देश दे रखे हैं। कोराना संक्रमण के दौरान भी हमारी आपूर्ति बेहतर रही , मांग में कोई कमी देखने को नहीं मिली। यह सकारात्मक संकेत भी है।

अमित तोमर, एमडी मप्रपक्षेविविकं इंदौर

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co