केन्द्र-राज्य सरकार की योजनाओं को कार्यकर्ता जनजाति वर्ग तक पहुंचाएं:धुर्वे
केन्द्र एवं राज्य सरकार की योजनाओं को कार्यकर्ता जनजाति वर्ग तक पहुंचाएं: धुर्वेSocial Media

केन्द्र-राज्य सरकार की योजनाओं को कार्यकर्ता जनजाति वर्ग तक पहुंचाएं:धुर्वे

भोपाल, मध्य प्रदेश : जनजाति के लोग भोले भाले होते हैं और उन्हें योजनाओं की समझ नहीं होती इसलिए हमें योजनाओं का लाभ पहुंचाने के लिए खुद हितग्राही तक पहुंचाना होगा।

भोपाल, मध्य प्रदेश। केन्द्र और प्रदेश सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं से जनजातियों को लाभ पहुंचे इसके लिए कार्यकर्ताओं की महती भूमिका है। जनजाति के लोग भोले भाले होते हैं और उन्हें योजनाओं की समझ नहीं होती इसलिए हमें योजनाओं का लाभ पहुंचाने के लिए खुद हितग्राही तक पहुंचना होगा। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के नेतृत्व में प्रदेश में जनजाति परिवार वन अधिकार पत्र पाकर लाभान्वित हुए है। यह बात पार्टी के राष्ट्रीय मंत्री ओमप्रकाश धुर्वे ने अनुसूचित जनजाति मोर्चा के प्रमुख कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित करते हुए कही। इस अवसर पर मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष कलसिंह भाबर एवं प्रमुख कार्यकर्ताओं ने पार्टी के नवनियुक्त राष्ट्रीय मंत्री ओमप्रकाश धुर्वे एवं प्रदेश उपाध्यक्ष एवं मोर्चा के राष्ट्रीय महामंत्री, सांसद गजेन्द्र पटेल का स्वागत किया।

मोर्चा कार्यकर्ता सरकार और जनजाति वर्ग के बीच सेतु का कार्य करे :

हितानंद शर्माबैठक को संबोधित करते हुए प्रदेश सह संगठन महामंत्री हितानंद शर्मा ने कहा कि मोर्चा कार्यकर्ता केन्द्र एवं राज्य सरकार की अनुसूचित जनजाति हितैषी योजनाओं और उपलब्धियांं को जन जन तक पहुंचाने के लिए कार्य करें। इस कार्य में मोर्चा के कार्यकर्ता पार्टी सरकार और जनजाति परिवारों के बीच सेतु का कार्य करेंगे। मोर्चा के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता प्रदेश भर में प्रवास कर जनजाति वर्ग के बीच अपनी पैठ बनाएं।

केन्द्रीय बजट से प्रदेश के विकास की रफ्तार तेज होगी :

पटेल पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष व अजजा मोर्चा के राष्ट्रीय महामंत्री व सांसद गजेन्द्रसिंह पटेल ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रदेश के लिए बजट में जो प्रावधान किए हैं, उनसे अधोसंरचना में सुधार होगा और प्रदेश के विकास की रफ्तार और तेज होगी। केन्द्रीय बजट में अनुसूचित जाति के 4 करोड़ विद्यार्थियों को पोस्टमैट्रिक छात्रवृत्ति, हायर एजुकेशन कमीशन आदि कदमों के शिक्षा जगत में दूरगामी परिणाम दिखाई देंगे। उन्होंने कहा कि कृषि कानून के विरोध में आंदोलन करने वाले किसान न होकर कांग्रेसी है। मोर्चा के कार्यकर्ता प्रदेश भर में किसान एवं जनजातियों के बीच पहुंचकर कृषि कानून के फायदे को समझायेंगे।

हमारी सरकारों ने जनजाति समुदाय का उत्थान किया : भाबर

अनुसूचित जनजाति मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष कलसिंह भाबर ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि जब-जब देश और प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व में सरकार का गठन हुआ तब-तब जनजाति समुदाय के सामाजिक, आर्थिक उत्थान की योजनाएं क्रियान्वित हुई है। हमें प्रदेश के 23 जिलों के जनजाति बहुल 47 विधानसभा क्षेत्र, 6 लोकसभा क्षेत्रों में पहुंचकर प्रदेश सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं को जनजातियों के बीच पहुंचाना है। इस अवसर पर बालिस्ता रावत, संदीप कुलस्ते, सुदामा सिंह संग्राम, उत्तम सिंह ठाकुर, नथन शाह कवरेती, कन्हैया सिसौदिया, मनोहर जी, मुकाम सिंह रावत, पंकज सिंह टेकाम, अर्चना सिंह कोरचे, डॉ. पूनम सोलंकी, वीरेन्द्रसिंह बघेल, राम दांगोरे, नारायण मेवाड़ा, अनीता भांडेरिया, प्रमोद उइके उपस्थित थे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

AD
No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co