राजनीतिक वंशवाद को उखाड़ फेंकने के प्रधानमंत्री के आह्वान पर आगे आएं युवा
राजनीतिक वंशवाद को उखाड़ फेंकने के प्रधानमंत्री के आह्वान पर आगे आएं युवासोशल मीडिया

राजनीतिक वंशवाद को उखाड़ फेंकने के प्रधानमंत्री के आह्वान पर आगे आएं युवा

भोपाल, मध्य प्रदेश : प्रधानमंत्री ने आज युवा संसद में राजनीतिक वंशवाद को कठिन चुनौती बताया है। कुछ परिवार ऐसे हैं, जो राजनीति को उनके परिवार के सदस्यों तक ही सीमित रखना चाहते हैं।

भोपाल, मध्यप्रदेश। प्रधानमंत्री ने आज युवा संसद में राजनीतिक वंशवाद को कठिन चुनौती बताया है। कुछ परिवार ऐसे हैं, जो राजनीति को उनके परिवार के सदस्यों तक ही सीमित रखना चाहते हैं। वे चाहते हैं कि हर एक लाभ, हर फायदा उनके ही परिवार को मिले। हमारे प्रधानमंत्री ने युवाओं पर भरोसा जताते हुए राजनीतिक वंशवाद को उखाड़ फेंकने का आह्वान किया है। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने मंगलवार को भाजपा प्रदेश कार्यालय में युवा सम्मेलन को संबोधित करते हुए कही। एक नरेंद्र के सपनों को पूरा कर रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस अवसर पर श्री शर्मा ने कहा कि स्वामी विवेकानंद कहते थे कि मुझे 100 क्षमतावान नौजवान मिल जाएं, तो मैं उनकी मदद से दुनिया के दृश्य बदल सकता हूं। स्वामी विवेकानंद की कल्पना को हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी साकार कर रहे हैं और उन्होंने अकेले ही पूरी दुनिया में भारत की छवि को बदल दिया है। जो स्वप्न उस समय के नरेंद्र यानी स्वामी विवेकानंद ने देखा था, हमें गर्व होता है कि हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज उस स्वप्न को पूरा कर रहे हैं। आत्मनिर्भर भारत शब्द का उपयोग स्वामी विवेकानंद ने भी किया था। उन्होंने एक भारत, श्रेष्ठ भारत की कल्पना की थी। उनके सपनों को प्रधानमंत्री पूरी दृढ़ता से साकार करने का काम कर रहे हैं।

संकल्प की ताकत को पहचानें युवा। श्री शर्मा ने कहा कि आज युवा दिवस के अवसर पर आप सभी हार्दिक अभिनंदन करता हॅू। आज का दिन हमारे लिए बहुत ही महत्वपूर्ण दिन है। 128 साल बाद हम एक ऐसे युवा आदर्श को याद कर रहे हैं, जिन्होंने भारत को दुनिया में पहचान दिलाने का काम किया था, जिन्हें भारत के साथ-साथ पूरी दुनिया में युवाओं के आदर्श के रूप में देखा जाता है। श्री शर्मा ने कहा कि हमारे बीच विश्व प्रसिद्ध स्वीमर सत्येंद्र कुमार उपस्थित हैं, जिन्होंने स्वामी विवेकानंद जी के उस कथन को अक्षरश: सत्य कर दिखाया है कि अगर मन में संकल्प है, तो दिव्यांग होना कोई अभिशाप नहीं है। श्री शर्मा ने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री जी ऐसे संकल्प युवाओं को लगातार प्रोत्साहित कर रहे हैं। श्री शर्मा ने कहा कि भारत का युवा अपने चरित्र के आधार पर बनता है। मान, सम्मान चला जाए तो कुछ नहीं होता है, लेकिन चरित्र चला गया तो कोई पूछने वाला नहीं होगा। इसलिए आज के युवाओं को चरित्रवान बनने का संकल्प लेना चाहिए।

स्वामी विवेकानंद जी के विचार हमेशा प्रासंगिक युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. अभिलाष पाण्डे ने कहा कि स्वामी विवेकानंद ने पूरे विश्व में एक यायावर ऋषि की तरह घूमकर भारत का नाम रोशन किया। विश्व को भारत की पुरातन संस्कृति से परिचय कराने का काम स्वामी जी ने किया था। उनके विचार हमेशा प्रासंगिक है। देश ही नहीं विश्व के युवा स्वामी जी के विचारों से प्रेरणा लेकर आगे बढ़े हैं। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता युवा मोर्चा का प्रत्येक कार्यकर्ता स्वामी जी के संकल्पों को साकार करने के लिए प्रतिबद्ध है। पार्टी के जिलाध्यक्ष सुमित पचौरी ने कहा कि स्वामी जी एक व्यक्ति नहीं विचार है। उनके विचारों को आगे बढ़ाने का काम हर युवा को करना है। स्वागत भाषण मोर्चा जिलाध्यक्ष प्रमोद शर्मा ने दिया। संचालन जिला महामंत्री गोपाल तोमर एवं आभार मंडल अध्यक्ष राहुल पचौरी ने माना।

प्रदेश अध्यक्ष ने किया चित्र प्रदर्शनी का उद्धघाटन पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष, सांसद विष्णुदत्त शर्मा, मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष डॉ अभिलाष पांडे, पूर्व मंत्री इमरती देवी ने पार्टी नेताओं के साथ प्रदेश कार्यालय में मोर्चा की जिला इकाई द्वारा स्वामी विवेकानंद जी के व्यक्तित्व पर केंद्रित लगाई गई चित्र प्रदर्शनी का उदघाटन किया। अतिथियों ने दीप प्रज्जवलन कर स्वामी विवेकानंद जी के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित की।

इस अवसर पर पार्टी जिलाध्यक्ष सुमित पचौरी, मोर्चा प्रदेश उपाध्यक्ष वैभव पंवार, प्रदेश प्रवक्ता राजो मालवीय, राहुल कोठारी, मोर्चा प्रदेश मंत्री अश्विनी राय, प्रदेश कोषाध्यक्ष चंद्र प्रकाश मिश्रा सहित कार्यकर्ता मौजूद थे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co