धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर्स योजना
धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर्स योजनाSocial Media

"छत्तीसगढ़ सरकार, भरोसे की सरकार" धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर्स योजना के तहत लोगों ने खरीदी सस्ती दवाएं

छत्तीसगढ़: सीएम भूपेश बघेल की सरकार ने छत्तीसगढ़ में एक पहल शुरू की जिसके तहत छत्तीसगढ़ के नागरिकों के जेब को बड़ी राहत मिली है।

छत्तीसगढ़। प्रदेश में सीएम भूपेश बघेल ने सभी आयुवर्ग के लोगों को काम कीमत पर दवाइयां गुणवत्तापूर्ण दवाइयां उपलब्ध करने के उद्देश्य से "श्री धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर्स योजना" की शुरुआत की थी जिसके तहत अब तक मरीजों को 100 करोड़ रूपए से अधिक की बचत हो चुकी है, जिससे छत्तीसगढ़ के नागरिकों के जेब को बड़ी राहत मिली है।

इस योजना की शुरुआत अक्टूबर 2021 में हुई थी

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पहल पर नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग द्वारा श्री धनवंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर योजना 20 अक्टूबर 2021 से शुरू की गई थी। इस योजना के तहत राज्य के समस्त 169 नगरीय निकायों में 194 श्री धनवंतरी मेडिकल स्टोर खोले गये। शासकीय चिकित्सकों को अस्पताल में इलाज हेतु आने वाले मरीजों को जेनेरिक दवाई लिखना अनिवार्य किया गया। योजना से अब तक 165.59 करोड़ रूपए एम.आर.पी. की दवाईयों के विक्रय पर 106 करोड़ 53 लाख रूपए की छूट जरूरतमंद लोगों को दी गई है।

इतने रुपयों की हो चुकी हैं बचत :

बता दें,कि प्रदेश के विभिन्न नगरीय निकाय में संचालित धनवंतरी जेनेरिक मेडिकल की दुकानों से 50 लाख 80 हजार से अधिक नागरिकों ने सस्ती दवायें खरीदी है। आज छत्तीसगढ़ कांग्रेस ने ट्वीट कर बताया कि, "छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार ने शुरू की 'श्री धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर्स योजना'• योजना के तहत अब तक मरीजों को 100 करोड़ रुपए से ज्यादा की बचत, • 50 लाख से ज्यादा • जेनेरिक दवाएं 50% से 70% कम दाम पर"

दवाएं 50 से 70 प्रतिशत कम दाम पर उपलब्ध:

इसके अलावा राज्य के सभी नगरीय निकायों में संचालित इस योजना के अंतर्गत प्रख्यात कंपनियों की जेनेरिक दवाएं 50 से 70 प्रतिशत कम दाम पर उपलब्ध कराई जाती है। धन्वंतरी दवा दुकानों में सर्दी, खांसी, बुखार, ब्लड प्रेशर, इन्सुलिन के साथ गंभीर बीमारियों की दवा, एंटीबायोटिक, सर्जिकल आईटम भी रियायती मूल्य पर जरूरतमंदों को उपलब्ध कराए जा रहे हैं।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co