राज्य स्तरीय छत्तीसगढ़िया ओलंपिक 2022-23
राज्य स्तरीय छत्तीसगढ़िया ओलंपिक 2022-23Raj Express

राज्य स्तरीय छत्तीसगढ़िया ओलंपिक 2022-23 : रायपुर की नबोनीता बैरा को मिला बिलासपुर अकादमी में जाने का अवसर

रायपुर, छत्तीसगढ़ : छत्तीसगढ़िया ओलंपिक ने दिए सपनों को पंख। पूरी हो रही खिलाड़ियों को आगे बढ़ाने की मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मंशा। खेल विभाग की डायरेक्टर ने किया नबोनीता को प्रोत्साहित।

रायपुर, छत्तीसगढ़। राजधानी रायपुर में राज्य स्तरीय छत्तीसगढ़िया ओलंपिक की प्रतिस्पर्धाओं में राज्य भर के उत्कृष्ट खिलाड़ी अपनी प्रतिभा दिखा रहे हैं। खेल प्रतिभा निखारने के लिए हर वर्ग के खिलाड़ियों को मौका देने की मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मंशा ने बहुत से खिलाड़ियों को आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया है।

ऐसी ही एक प्रतिभा है रायपुर जिले की नबोनीता बैरा जिन्होंने आज राज्य स्तरीय छत्तीसगढ़िया ओलंपिक में 100 मी दौड़ और लंबी कूद में प्रथम स्थान हासिल किया है। उनके खेल कौशल को देखकर खेल एवं युवा कल्याण विभाग की डायरेक्टर श्वेता सिन्हा श्रीवास्तव ने नवोनीता का नाम बिलासपुर अकादमी में प्रशिक्षण के लिए भेजने कहा। नवोनिता बताती हैं कि उन्होंने पहले भी बिलासपुर अकादमी के लिए ट्रायल दिया था, पर चयन नहीं हो पाया था, छत्तीसगढ़िया ओलंपिक ने उन्हें अपनी प्रतिभा दिखाने का अवसर दिया जिसके कारण अब वो बिलासपुर अकादमी में जा पाएंगी और राज्य का नाम रौशन कर पाएंगी।

उन्होंने छत्तीसगढ़िया ओलंपिक के आयोजन के लिए मुख्यमंत्री श्री बघेल का धन्यवाद किया साथ ही अपने कोच श्री राधाकृष्णन पिल्लई और अपने माता-पिता का भी धन्यवाद किया और आने वाले वर्षों में भी इस आयोजन को जारी रखने का आग्रह किया, जिससे राज्य के खिलाड़ी आगे बढ़ सके।

खेलने की कोई उम्र नहीं : ’आशो बाई’ के जज्बे को सलाम

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पहल से छत्तीसगढ़िया ओलम्पिक के माध्यम से प्रदेश में पारंपरिक खेलों के आयोजन ने जनसामान्य में उत्साह का संचार किया है। बच्चों, युवाओं, बुजुर्गों, महिलाओं में छत्तीसगढ़िया ओलम्पिक के लिए खुशी एवं उल्लास देखने को मिल रहा है। बुजुर्ग भी किसी से कम नहीं हैं। उन्होंने छत्तीसगढ़िया ओलंपिक में दम-खम दिखाया है। हरदी ग्राम पंचायत रायपुर संभाग की 65 वर्षीया श्रीमती आशो बाई ने अपने जज्बे और हौसले से जीत हासिल की। उन्होंने 40 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में फुगड़ी में 01 घंटा 31 मिनट 58 सेकेंड तक फुगड़ी खेलकर जीत हासिल की है। जीतने के बाद भी आशो बाई के फुगड़ी करते हुए कदम थम नहीं रहे थे। बिलासपुर संभाग अंतर्गत कोरबा जिले के पाली विकासखण्ड की साहिन बाई ने भी शानदार जज्बे का परिचय देते हुए 01 घंटा 31 मिनट 53 सेकेंड तक फुगड़ी करते हुए आशो बाई को कड़ी टक्कर दी, तो वहीं बस्तर संभाग की गंगावती प्रधान ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। इन महिलाओं के अधिक उम्र होने के बावजूद भी उनका छत्तीसगढ़िया ओलंपिक के राज्य स्तरीय फुगड़ी प्रतियोगिता में गजब का उत्साह देखते बन रहा था। उन्होंने छत्तीसगढ़िया ओलंपिक के आयोजन में उन्हें मंच देने के लिए मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल को धन्यवाद देते हुए आभार प्रकट किया है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co