पूर्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल को कारण बताओ नोटिस जारी
पूर्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल को कारण बताओ नोटिस जारीRE

पूर्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल को कारण बताओ नोटिस जारी, तीन दिन के भीतर देना होगा जवाब

कांग्रेस सरकार में राजस्‍व मंत्री रहे और कोरबा विधानसभा सीट के पूर्व विधायक जयसिंह अग्रवाल (Jaisingh Agarwal) को कांग्रेस पार्टी ने कारण बाताओ नोटिस जारी किया है।

हाइलाइट्स-

  • पूर्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल को कारण बताओ नोटिस जारी।

  • तीन दिन के भीतर देना होगा जवाब।

  • पूर्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने कांग्रेस सरकार के मुखिया पर गंभीर आरोप लगाए थे।

रायपुर, छत्तीसगढ़। कांग्रेस सरकार में राजस्‍व मंत्री रहे और कोरबा विधानसभा सीट के पूर्व विधायक जयसिंह अग्रवाल (Jaisingh Agarwal) से जुड़ी बड़ी खबर सामने आई है। पूर्व विधायक जयसिंह अग्रवाल को कांग्रेस पार्टी ने कारण बाताओ नोटिस जारी किया है। जय सिंह को कारण बताओ नोटिस जारी कर तीन दिन में जवाब मांगा गया है। जयसिंह अग्रवाल ने प्रेस कांफ्रेंस कर कांग्रेस सरकार और सरकार के मुखिया पर गंभीर आरोप लगाए थे। बता दें, इससे पहले पार्टी पूर्व विधायक डॉ. विनय जायसवाल, बृहस्‍तप सिंह सहित कई नेताओं को नोटिस जारी कर चुकी है।

क्या लिखा है नोटिस में:

जारी नोटिस में लिखा है कि, छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2023 के परिणाम उपरांत आप अपने विधानसभा क्षेत्र की हार पर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर राज्य की सरकार राज्य की कांग्रेस सरकार पर प्रश्न चिन्ह लगाते हुए, अप्रत्यक्ष रूप से सरकार के मुखिया परगंभीर आरोप लगाए, जाने का मामला विभिन्न मीडिया के माध्यम से प्रदेश कांग्रेस कमेटी के संज्ञान में आया है। आपके द्वारा लगाए गए, उक्त गंभीर आरोप से पार्टी की छवि धूमिल हो रही है, जिसे छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने गंभीरता से लेते हुए, उक्त मामले में स्पष्टीकरण चाहा है। मान. प्रदेश अध्यक्षजी के निर्देशन अनुसार, अपना लिखित स्पष्टीकरण पत्र प्राप्ति के तीन दिवस के चित्र प्रदेश कांग्रेस कमेटी को प्रेषित करें।

पूर्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल को कारण बताओ नोटिस जारी
पूर्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल को कारण बताओ नोटिस जारी

जयसिंह अग्रवाल ने दिया था यह बयान:

जयसिंह अग्रवाल ने कांग्रेस सरकार के मुखिया पर आरोप लगाते हुए कहा था कि, इस चुनाव में एकजुटता नहीं थी, इस बार का चुनाव सेंट्रलाइज था। पिछले चुनाव में जो जनादेश मिला, उसका सरकार कदर नहीं कर पाई। मंत्रियों को पावर नहीं मिल पाई। एक ताकत सेंट्रलाइज होकर कुछ लोगों के साथ सरकार चलाती रही। मंत्रियों का जो जिले में प्रभाव होता है, उसे बाधित किया गया। इतना ही नहीं जयसिंह अग्रवाल ने संगठन के सर्वे पर भी सवाल उठाया। उन्होंने कहा कि, विधायकों के परफार्मेंस का सर्वे सरकार का मुखिया करवाता था। उस सर्वे पर कभी चर्चा नहीं हुई, जो फर्जी सर्वे था।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co