Suspended IAS Soumya Chaurasia Bail Plea Rejected
Suspended IAS Soumya Chaurasia Bail Plea RejectedRE - Raipur

मनी लॉन्ड्रिंग मामले में निलंबित IAS सौम्या चौरसिया की बड़ी मुश्किलें, SC ने जुर्माना लगाया, जमानत याचिका खारिज

Suspended IAS Soumya Chaurasia Bail Plea Rejected : सौम्या चौरसिया छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम भूपेश बघेल की उप सचिव रह चुकी हैं।

हाइलाइट्स :

  • सौम्या चौरसिया करीब एक साल जेल में बिता चुकी हैं।

  • चौरसिया पर एक लाख रुपये का लगा जुर्माना।

  • SLP में किये गलत तथ्य प्रस्तुत।

रायपुर, छत्तीसगढ़। मनी लॉन्ड्रिंग मामले में छत्तीसगढ़ की निलंबित आईएएस अधिकारी सौम्या चौरसिया को बड़ा झटका लगा है। उच्चतम न्यायालय (Supreme court) ने IAS अधिकारी सौम्या चौरसिया की जमानत याचिका खारिज कर दी है। इसके अलावा सौम्या चौरसिया ने सुप्रीम कोर्ट में अपनी SLP में गलत तथ्य प्रस्तुत किये थे, जिसके कारण उन पर एक लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया है। सौम्या चौरसिया छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम भूपेश बघेल की उप सचिव रह चुकी हैं।

निलंबित IAS अधिकारी सौम्या चौरसिया पर आरोप है कि, उन्होंने अधिकारियों, नेताओं के साथ मिलकर प्रत्येक टन कोयले पर 25 रुपए की उगाही की है। सौम्या चौरसिया को पिछले दिनों प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) द्वारा मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार भी किया गया था। IAS अधिकारी सौम्या चौरसिया पर ट्रक और वाहनों से अवैध लैवी वसूलने का भी आरोप है।

सौम्या चौरसिया ने छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय के 23 जून के आदेश को चुनौती देते हुए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय ने भी सौम्या चौरसिया की जमानत याचिका ख़ारिज कर दी थी। सौम्या चौरसिया करीब एक साल जेल में बिता चुकी हैं। उनका कहना है कि, उन्हें फसाया जा रहा है और ये पूरा मामला राजनीतिक द्वेष से प्रेरित है।

केंद्रीय एजेंसी का दावा है कि, जबरन वसूली और अवैध लेवी से इकट्ठा किया गया धन कथित तौर पर चुनावी फंडिंग और रिश्वत के लिए इस्तेमाल किया जा रहा था। वहीं ईडी का कहना है कि, मुख्यमंत्री कार्यालय में अपने पद और प्रभाव के कारण चौरसिया ने कथित तौर पर और गैरकानूनी तरीके से कोयला लेवी वसूली और नगदी प्राप्त की। इस धन से अपने परिवार के सदस्यों के नाम पर संपत्तियां खरीदी।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co