अरुणाचल प्रदेश से लापता 5 युवकों को चीन ने भारतीय सेना को सौंपा
अरुणाचल प्रदेश से लापता 5 युवकों को चीन ने भारतीय सेना को सौंपा|Priyanka Sahu -RE

अरुणाचल प्रदेश से लापता 5 युवकों को चीन ने भारतीय सेना को सौंपा

अरुणाचल प्रदेश से अगवा किए गए 5 भारतीय युवकों को आज सुबह चीनी सेना ने भारतीय सेना को लौटा दिया गया है। अभी पांचों नागरिकों को 14 दिनों के क्वारंटाइन किया जाएगा।

अरुणाचल प्रदेश: भारत-चीन में LAC पर तनाव जैसे गंभीर हालातों के बीच कुछ दिनों पहले ऐसी खबरें सामने आई थी कि, चीन की सेना ने अरुणाचल प्रदेश से 5 भारतीय युवकों का अपहरण कर लिया है, जिन्‍हें आज सुबह भारतीय सेना को लौटा दिया गया है।

Last updated

अपनी सरजमीं पर लौटेे 5 भारतीय युवक :

जी हां, अरुणाचल प्रदेश से लापता 5 भारतीय युवक अपनी सरजमीं पर लौट आए है। चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी द्वारा इस महीने की शुरुआत में चीन से लगी सीमा के पास के गांवों से लापता हुए पांच भारतीय लोगों को आज सुबह भारतीय सेना को सौंप दिया गया है। वहीं, तेजपुर डिफेंस के जनसंपर्क अधिकारी ने इस बात की जानकारी दी कि, सेना ने सभी औपचारिकताओं को पूरा करने के बाद आज किबिटू में इन व्यक्तियों (अरुणाचल प्रदेश से लापता) को ले लिया। इन सभी को कोविड-19 प्रोटोकॉल के तहत 14 दिनों के लिए क्वारंटीन किया जाएगा और इसके बाद इन्हें परिवार के सदस्यों को सौंप दिया जाएगा।

Last updated

केंद्रीय मंत्री रिजिजू ने किया ट्वीट :

केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू ने शुक्रवार को ट्वीट किया, "चीनी पीएलए ने भारतीय सेना को अरुणाचल प्रदेश के युवाओं को हमारे पक्ष में सौंपने की पुष्टि की है।" सेना ने एक बयान में कहा था कि, '1 सितंबर से लापता हुए पांच लोग शिकारी थे। उनके परिवार और स्थानीय लोगों ने हालांकि कहा कि वे पोर्टर्स थे।'

Last updated

बता दें, इस महीने की 5 तारीख को ये खबर सामने आई थी कि, चीनी सेना ने अरुणाचल प्रदेश से 5 भारतीय युवकों का अपहरण कर लिया है और इस बारे में अरुणाचल प्रदेश के कांग्रेस विधायक निनॉन्ग ईरिंग ने खुद ये दावा किया था। इसी के बाद चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता झाओ ल‍िज‍िन का बयान सामने आया था, जिसमें उन्‍होंने अरुणाचल प्रदेश से 5 भारतीय युवकों का अपहरण को लेकर ये बात कही है कि, ''हमारे पास अभी इस बात की कोई जानकारी नहीं है और ना ही भारतीय सेना ने ऐसी कोई अपील की हैं।'' साथ ही अरुणाचल प्रदेश को अपना हिस्‍सा बताया था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Last updated

Raj Express
www.rajexpress.co