पटियाला में जुलूस निकालने को लेकर दो पक्षों के बीच झड़प, हिंसा के दौरान पुलिस पर पथराव
पटियाला में जुलूस निकालने को लेकर दो पक्षों के बीच झड़पSocial Media

पटियाला में जुलूस निकालने को लेकर दो पक्षों के बीच झड़प, हिंसा के दौरान पुलिस पर पथराव

पंजाब के पटियाला जिले से एक बड़ी खबर सामने आई है। खबर है कि, पंजाब के पटियाला में काली मंदिर के पास दो पक्षों में जुलूस निकालने को लेकर झड़प हो गई।

पंजाब, भारत। पंजाब के पटियाला जिले से एक बड़ी खबर सामने आई है। खबर है कि, पंजाब के पटियाला में काली मंदिर के पास दो पक्षों में जुलूस निकालने को लेकर झड़प हो गई। तनाव इस कदर बढ़ गया कि, लोगों के बीच पत्थरबाजी और फायरिंग शुरू हो गई। दोनों पक्षों की तरफ से एक दूसरे पर तलवारें भी खिंच गईं।

मिली जानकारी के अनुसार, पंजाब के पटियाला में बिना अनुमति के दो समुदाय के लोगों ने जुलूस निकाला था। बताया जा रहा है कि, पटियाला के फुव्वारा चौक पर पहुंच कर दोनों जुलूस के लोगों ने भारी बवाल काटा जिसकी सूचना पुलिस को मिली थी, इसे रोकने के लिए मौके पर पुलिस पहुंची, जिसके बाद लोगों ने पुलिस पर पथराव कर दिया। वहीं दूसरे पक्ष पर भी तलवारें लहराने का आरोप है।

इस घटना से जुड़े जो वीडियो फुटेज सामने आए हैं, उसमें लोग हाथों में तलवार लिए नारेबाजी करते दिख रहे हैं। कई लोग छत से जुलूस पर पथराव करते भी दिख रहे हैं।

खबरों के अनुसार, दोनों समुदाय के लोगों के पास जुलूस निकालने की अनुमति नहीं थी। इस घटना के दौरान एसएचओ समेत कुछ और लोग चोटिल हो गए हैं। वहीं पुलिस को हालात संभालने के लिए हल्का सा बल प्रयोग करना पड़ा।

पटियाला डीएसपी ने कही यह बात:

पंजाब पटियाला डीएसपी ने कहा कि, "यहां कानून व्यवस्था की समस्या को देखते हुए पुलिस तैनात कर दी गई है। हम शिवसेना (दो समूहों में से एक) के प्रमुख हरीश सिंगला से बात कर रहे हैं, क्योंकि उनके पास मार्च की अनुमति नहीं है।"

भगवंत मान ने कही यह बात:

वहीं पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने घटना पर दुख जताते हुए कहा, "पटियाला में दो पक्षों के बीच हुई झड़प बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है। मैंने डीजीपी से बात की है, इलाके में शांति बहाल कर दी गई है। हम स्थिति की बारीकी से निगरानी कर रहे हैं और किसी को भी राज्य में अशांति पैदा नहीं करने देंगे। पंजाब की शांति और सद्भाव अत्यंत महत्वपूर्ण है।"

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.