उत्तराखंड में नैनीताल जिले के रामगढ़ गांव में फटा बादल
उत्तराखंड में नैनीताल जिले के रामगढ़ गांव में फटा बादलSyed Dabeer Hussain - RE

उत्तराखंड में नैनीताल जिले के रामगढ़ गांव में फटा बादल

देश के कई राज्‍यों में प्राकृतिक आपदा का कहर थम ही नहीं रहा है, अब उत्तराखंड में नैनीताल जिले के रामगढ़ गांव में बादल फटने की घटना हुई है।

उत्तराखंड, भारत। हिमालय की गोद में बसा उत्तराखंड देवभूमि के नाम से जाना जाता है और मनमोहक प्राकृतिक आकर्षणों, घने जगंलों और हिम पर्वतों से घिरा उत्तराखंड प्राकृतिक और सांस्कृतिक रूप से यह राज्य काफी ज्यादा मायने रखता है। ऐसे पहाड़ी इलाकों या पश्चिमी घाटों में बादल फटने की घटनाएं अधिकतर होती रहती हैं। अब उत्तराखंड में नैनीताल जिले के रामगढ़ गांव में बादल फटने की खबर सामने आई है।

कई लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका :

देश के कई राज्‍यों में प्राकृतिक आपदा का कहर थम ही नहीं रहा है, कही न कहीं कुछ न कुछ घटनाएं हो ही रही हैं। कई राज्‍यों में झमाझम बारिश आफत बनी हुई और इस बीच भूस्‍खलन, तो कहीं आसमानी आपदा यानी बादल फटने से तबाही मचा रही है। तो वहीं, उत्तराखंड में नैनीताल ज़िले के रामगढ़ गांव में बादल फटने की घटना के बाद कई लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका है। पुलिस व प्रशासन की टीम मौके पर पहुंची है एवं बचाव कार्य जारी है। एसएसपी प्रीति प्रियदर्शिनी ने बताया- नैनीताल जिले के रामगढ़ गांव में जहां बादल फटा था वहां से कुछ घायलों को बचा लिया गया है, अभी कितने लोग मलबे में दबे हो सकते हैं। इसकी कोई वास्तविक संख्या का अभी पता नहीं चल पाया है।

बादल फटता है तो क्या होता है?

बता दें कि, अगर किसी पहाड़ी स्थान पर एक घंटे में 10 सेंटीमीटर से अधिक बारिश होती है तो इसे बादल फटना कहते हैं और बादल फटने की घटना अधिकतर हिमालय के पहाड़ी इलाकों या पश्चिमी घाटों में होती है। बादल फटना बारिश का चरम रूप होता है, कई बार बादल फटने की घटना से जान-माल का भारी नुकसान देखने को भी मिलता है और जहां बादल फटता है, वहां के लोगों को भारी से अतिभारी बारिश का सामना करना पड़ता है। इस दौरान उदाहरण के तौर पर अगर समझें, तो जिस तरह पानी से भरा गुब्‍बारा अगर फूट जाए तो एक साथ एक जगह बहुत तेजी से पानी गिरता है, वैसी ही स्थिति बादल फटने की घटना में होती है, इस प्राकृतिक घटना को 'क्‍लाउडबर्स्‍ट' या 'फ्लैश फ्लड' भी कहा जाता है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co