CM चन्नी ने कहा- किसानी और खेत मजदूर का हाल बद से बदतर, कानूनों को रद्द करों नहीं तो...
CM चन्नी ने कहा- किसानी और खेत मजदूर का हाल बद से बदतर, कानूनों को रद्द करों नहीं तो...Twitter

CM चन्नी ने कहा- किसानी और खेत मजदूर का हाल बद से बदतर, कानूनों को रद्द करों नहीं तो...

पंजाब के चंडीगढ़ में पंजाब के CM चरणजीत सिंह चन्नी ने प्रेस कांफ्रेंस कर किसानों की हालत पर दुख व्‍यक्‍त किया, साथ ही नवजोत सिंह सिद्धू के इस्तीफ़े पर कही यह बात...

पंजाब, भारत। देश के किसान केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों को लेकर आंदाेलन कर रहे हैं, इस दौरान किसानों को विपक्ष का समर्थन मिल रही है और विपक्ष पार्टी के नेता कृषि कानूनों को रद्द करने के लिए केंद्र सरकार पर जोर डाल रहे हैं। अब हाल ही में पंजाब के सियासी हलचल के बीच आज मंगलवार को चंडीगढ़ में पंजाब के मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने प्रेस कांफ्रेंस की।

किसानों की हालत पर व्‍यक्‍त किया दुख :

प्रेस कांफ्रेंस में पंजाब के मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने किसानों की हालत पर दुख व्‍यक्‍त किया और केंद्र सरकार से नए कृषि कानूनों को रद्द करने की अपील की है। मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा- हमारी किसानी और खेत मज़दूर का हाल बद से बदतर होता जा रहा है, इसके बावजूद केंद्र सरकार टस से मस नहीं हो रही है। मैं पंजाब सरकार का मुख्यमंत्री होते हुए केंद्र सरकार से अपील करना चाहता हूं कि, आप इन कानूनों को रद्द करो, नहीं तो हमें विधानसभा बुलाकर इन्हें रद्द करना पड़ेगा।

सिद्धू के इस्तीफ़े पर CM चरणजीत सिंह चन्नी का कहना :

इसके अलावा पंजाब कांग्रेस के चीफ पद से नवजोत सिंह सिद्धू के इस्तीफे के बारे में भी पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की प्रतिक्रिय आई, जिसमें उन्‍होंने कहा है कि, ''उन्हें इस बारे में कोई सूचना नहीं है। हालांकि, अगर वे नाराज हैं तो उनसे बात करेंगे।''

बता दें कि, आज पंजाब कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष पद से नवजोत सिंह सिद्धू ने इस्तीफा दे दिया है और इस दौरान उन्‍होंने कांग्रेस की अध्‍यक्ष सोनिया गांधी को चिट्ठी भी भेजी है। हालांकि, कुछ दिन पहले ही पंजाब के मुख्यमंत्री पद से कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस्तीफा दिया था, इसके बाद चरणजीत सिह चन्नी को मुख्यमंत्री बनाया गया था और उन्‍होंने पंजाब के 16वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली थी और रविवार को चरणजीत चन्नी की नई कैबिनेट का भी विस्‍तार हो गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.